Move to Jagran APP

दांतों को मजबूत और स्वस्थ रखने के लिए डाइट में शामिल करें ये 5 चीजें

कोरोना काल में डॉक्टर भी इम्यून सिस्टम मजबूत करने के लिए विटामिन-सी युक्त फल और सब्जियां खाने की सलाह देते हैं। साथ ही इससे दांत और मसूढ़ें भी मजबूत होते हैं। इसके लिए आप संतरे कीवी नींबू पत्ता गोभी और गोभी का सेवन कर सकते हैं।

By Umanath SinghEdited By: Published: Sun, 18 Oct 2020 06:18 PM (IST)Updated: Sun, 18 Oct 2020 06:18 PM (IST)
कम उम्र में दांतों में परेशानी चिंता का विषय है।

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। आधुनिक समय में सेहतमंद रहना बड़ी चुनौती है। इसके लिए नियमित और संतुलित आहार जरूरी है। जबकि आहार को चबाने यानी खाने के लिए मजबूत और स्वस्थ दांत की जरूरत पड़ती है। अगर दांत में कोई परेशानी होती है, तो चबाना बेहद मुश्किल हो जाता है। ऐसे समय में लिक्विड पर निर्भर रहना पड़ता है। बुढ़ापे में दांतों का टूटना और कमजोर होना नेचुरल है, लेकिन कम उम्र में दांतों में परेशानी चिंता का विषय है। इसके लिए दांतों की समुचित देखभाल जरूरी है। अगर आप भी अपने दातों को मजबूत और स्वस्थ रखना चाहते हैं, तो अपनी डाइट में इन 5 चीजों को जरूर शामिल करें। इनके सेवन से दांत मजबूत होते हैं। आइए जानते हैं-

विटामिन-सी युक्त फल और सब्जियों का सेवन करें

कोरोना काल में डॉक्टर भी इम्यून सिस्टम मजबूत करने के लिए विटामिन-सी युक्त फल और सब्जियां खाने की सलाह देते हैं। साथ ही इससे दांत और मसूढ़ें भी मजबूत होते हैं। इसके लिए आप संतरे, कीवी, नींबू, पत्ता गोभी और गोभी का सेवन कर सकते हैं।

डेरी प्रोडक्ट्स खाएं

आप अपनी डाइट में दूध, दही और पनीर को जरूर शामिल करें। इनमें कैल्शियम और विटामिन-सी पाया जाता है। इनके सेवन से हड्डियां मजबूत होती हैं।

अंडे खाएं

अंडा प्रोटीन का मुख्य स्त्रोत माना जाता है। साथ ही इसमें विटामिन-डी और कैल्शियम पाया जाता है। दांतों को मजबूत और स्वस्थ रखने के लिए अपनी डाइट में अंडे जरूर शामिल करें।

पानी अधिक पिएं

पानी शरीर का महत्पूर्ण घटक है। इससे शरीर में मजूद टॉक्सिन बाहर निकल जाता है। साथ ही यह लार में सुधार करता है। पानी में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं जो सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं।

ग्रीन टी पिएं

इसमें एंटीऑक्सिडेंट्स के गुण पाए जाते हैं। इससे न केवल वजन कम होता है, बल्कि यह मुंह में जीवाणुओं के प्रसार को रोकने में सहायक होते हैं जो दांत और मसूढ़ों में होने वाली बीमारियों के खतरे को कम करते हैं।

डिस्क्लेमर: स्टोरी के टिप्स और सुझाव सामान्य जानकारी के लिए हैं। इन्हें किसी डॉक्टर या मेडिकल प्रोफेशनल की सलाह के तौर पर नहीं लें। बीमारी या संक्रमण के लक्षणों की स्थिति में डॉक्टर की सलाह जरूर लें।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.