Move to Jagran APP

9 Years Of Modi Govt: पीएम मोदी के फिट एंड एक्टिव रहने का क्या है सीक्रेट, यहां जानिए उनका डाइट प्लान

9 Years Of Modi Govt प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का 72 की उम्र में भी एकदम फिट एंड एक्टिव नजर आते हैं। दुनियाभर में लोग इस बात को लेकर चर्चा करते हैं कि आखिर कैसे प्रधानमंत्री बिना रुके 18 घंटे काम करते हैं।

By Saloni UpadhyayEdited By: Saloni UpadhyayPublished: Sat, 27 May 2023 01:19 PM (IST)Updated: Sat, 27 May 2023 01:19 PM (IST)
9 years of Modi govt: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के फिटनेस का राज

नई दिल्ली, लाइफस्टाइल डेस्क। 9 Years Of Modi Govt: विश्व में पीएम मोदी के काम को लेकर चर्चा होता रहता है कि आखिर भारत के प्रधानमंत्री बिना रुके 18 घंटे काम कैसे कर लेते हैं, क्या वे थकते नहीं हैं? यह सवाल कई मीडिया इंटरव्यू में भी पूछा गया है। इसके अलावा अक्सर लोग गूगल पर सर्च भी करते हैं कि आखिर पीएम मोदी कैसे फिट रहते हैं और बिना थके कैसे इतना काम कर लेते हैं। आखिर प्रधानमंत्री क्या खाते हैं, जिसके कारण वे इतने फुर्तीले हैं।

loksabha election banner

हालांकि प्रधानमंत्री ने कई मौकों पर अपने दिनचर्या और फिटनेस के बारे में बताया भी हैं। आज इस लेख में जानेंगे कि आखिर पीएम मोदी का डाइट प्लान क्या है, जिससे वे हमेशा फिट रहते हैं।

पीएम नरेंद्र मोदी की है बेहद सिंपल डाइट

आपके मन में कई सवाल होंगे कि प्रधानमंत्री हैं तो उनका डाइट आम लोगों से अलग ही होगा। अगर ऐसा सोच रहे हैं, तो आप गलत हो सकते हैं। जी हां, प्रधानमंत्री का डाइट काफी सिंपल है। वह खुद को स्वस्थ और ऊर्जावान बनाए रखने के लिए साधारण डाइट में विश्वास रखते हैं। इसके अलावा प्रधानमंत्री शारीरिक और मानसिक सेहत के लिए योग और उपवास भी करते हैं।

सहजन का खाते हैं पराठे

अगर याद होगा तो आपको बता दें कि प्रधानमंत्री ने फिट इंडिया मूवमेंट के दौरान बताया था कि वह हफ्ते में एक से दो बार सहजन के पराठे का सेवन करते हैं। बता दें कि आयुर्वेदिक दवाइयों को बनाने के लिए सहजन का प्रयोग किया जाता है। इसका इस्तेमाल तीन सौ बीमारियों के औषधि के रूप में किया जाता है। सहजन के पत्ते और बीज से लेकर तने तक सभी हिस्सों में औषधीय गुण होते हैं। इसके सेवन से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ता है, साथ ही कैल्शियम से भी होता है। सुपाच्य होने के कारण सहजन लीवर को हेल्दी रखने में मदद करता है। इसके अलावा यह पेट से जुड़ी बीमारियों से भी बचाता है।

हफ्ते में 3 दिन खाते हैं वाघारेली खिचड़ी

फिटनेस को लेकर सक्रिय रहने वाले पीएम मोदी गुजराती स्टाइल में बनने वाली खिचड़ी खाते हैं, जिसे वाघारेली खिचड़ी भी कहा जाता है। इस खिचड़ी को बनाने में काफी मसाले का प्रयोग होता है, लेकिन प्रधानमंत्री कम मसाले में बनी खिचड़ी खाना पसंद करते हैं। इसे बनाने के लिए चावल, मूंग, हल्दी और नमक की जरूरत होती है। यानी आप समझ सकते हैं कि प्रधानमंत्री कितना सिंपल खाना खाते हैं।

मां पूछती थीं हल्दी लेते हो न?

प्रधानमंत्री हल्दी का सेवन नियमित रूप से करते हैं। उन्होंने फिट इंडिया मूवमेंट के 1 साल पूरे होने पर फिटनेस और हेल्थ के बारे में बात करते हुए जानकारी दिया था कि उनकी मां हमेशा उनसे पूछती थीं कि वह रोज हल्दी खाते हैं कि नहीं। आपको बता दें कि आयुर्वेद में हल्दी का सबसे बड़ा योगदान होता है। हल्दी शरीर में मौजूद वायरस से लड़ने में मददगार है।

हर रोज खाते हैं दही

पीएम मोदी हर रोज दही खाते हैं। उनके डेली डाइट में दही होना अनिवार्य है। दही के अंदर कई लाभकारी गुण होते हैं। इसे खाने से कमजोर इम्यूनिटी, दांत, हड्डी और दिल से जुड़ी बीमारियों से बच सकते हैं। दही में कैल्शियम विटामिन बी, विटामिन बी-2, मैग्नीशियम और पोटेशियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं।

हिमाचली मशरूम खाते हैं बड़े ही चाव से

प्रधानमंत्री ने अपने एक इंटरव्यू के दौरान बताया था कि वे हिमाचल में उगाई जाने वाली पहाड़ी मशरूम का दीवाने हैं। मोदी पहाड़ी मशरूम काफी चाव से खाते हैं। इसमें कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो सेहत के लिए काफी लाभकारी होते हैं। हिमाचली मशरूम को मोरल मशरूम भी कहा जाता है इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन बी मौजूद होता है, इसके अलावा यह लीवर को डिटॉक्स करने, इम्युनिटी बढ़ाने और दिल की बीमारियों से बचाव करने के लिए जाना जाता है।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.