महिलाओं के साथ पुरुषों में भी इसका चलन देखा जा सकता है, यह एक सकारात्मक बात है, क्योंकि स्किन और हेयर केयर की ज़रूरत हरेक को है। ऐसे में बहुत से लोगों में यह सवाल है कि क्या वीगन प्रोडक्ट्स एलर्जी कर सकते हैं? ये कितने कारगर होते हैं? साथ ही इन्हें इस्तेमाल करने का सही तरीका क्या होना चाहिए? जानें यहां।

यहां किसी भी नतीजे पर पहुंचने से पहले दो मूल बातों को समझना ज़रूरी है। पहला यह कि वीगन क्या प्लांट बेस्ड पदार्थों का अर्थ है, ऐसे पदार्थ जिनका मूल स्रोत पेड़-पौधे हैं, इनमें नॉन-वेज और डेयरी उत्पाद भी शामिल नहीं होते। दूसरा मूल बिंदु है कि किसी भी पदार्थ को चेहरे या बालों पर अप्लाई करने के लिए व्यक्ति की स्किन टाइप का महत्व होता है। इसलिए पूरी तरह से इस बात की पुष्टि नहीं की जा सकती कि प्लांट बेस्ड प्रोडक्ट हरेक व्यक्ति के लिए सही ही होंगे या उसके दुष्प्रभाव होंगे। वैसे कई बेहतरीन परिणाम सामने आए हैं, तभी इसका चलन बढ़ा है।

ध्यान दें इस ओर...

ठीक इसी प्रकार केवल प्लांट बेस्ड विकल्प समझ कर नींबू का रस चेहरे पर अप्लाई करना समझदारी नहीं है। क्योंकि नींबू के कारण त्वचा पर बहुत से लोगों को जलन हो सकती है, साथ ही ड्राई स्किन पर नींबू नहीं लगाना चाहिए।

विंटर स्किन केयर: अभी के मौसम की यदि बात करें तो यह ठंडा और शुष्क मौसम है जिसके कारण त्वचा में खुश्की महसूस हो सकती है। सर्दियों में वीगन प्रोडक्ट के पैक या स्क्रब का यूज़ 15 से 20 दिन में एक बार करें। इसके अलावा त्वचा को शुष्क करने वाले पदार्थों से बचें, जैसे नींबू का इस्तेमाल और टमाटर आदि से क्लींजि़ंग लगातार करने से बचें।

कैसे करें प्लांट बेस्ड ब्यूटी हेयर एंड स्किन पैक पर शिफ्ट?

हालांकि रसोई में मिलने वाली चीज़ें जिन्हें बालों और त्वचा पर लगाया जा सके वे अधिकतर वीगन ही हो सकते हैं, लेकिन यदि पूरी तरह से प्लांट बेस्ड करना चाहें तो इस प्रकार कर सकते हैं:

1. कच्चा दूध या दही के स्थान पर चेहरे पर अप्लाई करने के लिए नारियल का तेल, कैस्टर ऑयल लगाएं। लेकिन कच्चा दूध अकसर स्क्रबिंग व क्लींजि़ंग के लिए इस्तेमाल होता है, ऐसे में पानी से चेहरा धोकर भी पैक अप्लाई कर सकते हैं।

2. दही और बेसन का पैक बहुत आम है। ऐसे में अपनी स्किन टाइप के अनुसार खीरा, टमाटर, मसूर की दाल आदि के पैक लगाए जा सकते हैं।

नहीं है हानिकारक

यदि किसी तरह की एलर्जी या त्वचा रोग से जूझ रहे हैं बिना डॉक्टर की सलाह के कोई भी चीज़ त्वचा पर अप्लाई न करें, फिर चाहें वह घरेलू नुस्खे में क्यों न शामिल हो? प्लांट बेस्ड प्रोडक्ट्स की चाह में बहुत से लोग हानिकारक केमिकल्स युक्त प्रोडक्ट्स से दूरी बना रहे हैं। मार्केट में भी प्लांट बेस्ड स्किन एंड हेयर केयर प्रोडक्ट्स मौज़ूद हैं और इनके विकल्प घर की रसोई में भी पर्याप्त हैं। ध्यान दें कि वीगन प्रोडक्ट्स पर लिखे दिशा-निर्देशों को पढऩे के बाद ही चेहरे और बालों पर अप्लाई करें।

(श्री बालाजी एक्शन मेडिकल इंस्टिट्यूट के सीनियर कंसल्टेंट, डर्मेटोलॉजी डॉ. विजय सिंघल से बातचीत पर आधारित)

Pic credit- freepik

Edited By: Priyanka Singh