मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

मैं मिडिल क्लास फैमिली से हूं और बीकॉम कर रहा हूं। बैंकिंग सेक्टर में जाना चाहता हूं। यह भी चाहता हूं कि सैलरी काफी अच्छी हो। इसके लिए मुझे क्या करना चाहिए?

अनुज राना

बैंकिंग सेक्टर इन दिनों तेजी से आगे बढ़ रहा है। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के साथ-साथ प्राइवेट सेक्टर के बैंक भी आगे बढ़ रहे हैं। कारोबार का प्रसार होने और टेक्नोलॉजी का साथ मिलने से बैंकों में स्किल्ड लोगों की जरूरत बढ़ती जा रही है। ऐसे में अगर आप बैंकिंग में करियर बनाना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको फोकस्ड तैयारी करनी होगी। पीएसबी यानी पब्लिक सेक्टर के बैंक में नौकरी पाना चाहते हैं, तो आपको आइबीपीएस द्वारा लिए जाने वाले कॉमन रिटेन एग्जाम की तैयारी करनी होगी। हां, अगर प्राइवेट बैंकों में जॉब चाहते हैं, तो बेहतर होगा कि आप बीकॉम के बाद फाइनेंस में एमबीए या पीजीडीएम कर लें। इससे आपको अच्छे अवसर मिल सकते हैं।

मॉक पेपर से करें प्रैक्टिस

कृपया मुझे एनडीए-2 एग्जाम की फुल डिटेल बताएं। इसके लिए तैयारी कैसे करूं? मेरी पर्सनैलिटी बहुत अच्छी है।

नितिन

अगर आपकी पर्सनैलिटी बहुत अच्छी है और आप खुद को आम्र्ड फोर्सेज में देखना चाहते हैं, तो एनडीए के जरिए सेना में एंट्री कर सकते हैं। जैसा कि आप जानते हैं, यूपीएससी द्वारा साल में दो बार नेशनल डिफेंस एकेडमी और नेवल एकेडमी द्वारा संचालित कोर्स में प्रवेश के लिए एंट्रेंस आयोजित किया जाता है। अगर आप इस एग्जाम में अपीयर होना चाहते हैं, तो आपको इसकी तैयारी स्ट्रेटेजी बनाकर करनी होगी। बारहवीं पीसीएम के सिलेबस को अच्छी तरह कवर करने के अलावा जीके के लिए एनसीइआरटी की बारहवीं तक की बुक्स से तैयारी कर सकते हैं। इसके अलावा, नेशनल न्यूजपेपर्स की मदद से करेंट इवेंट की तैयारी करें। यूपीएससी की साइट से पिछले वर्षों के क्वैश्चन पेपर की मदद से पैटर्न समझ सकते हैं। रेगुलर तैयारी के साथ-साथ मॉक पेपर के जरिए प्रैक्टिस करना भी उपयोगी हो सकता है। अधिक जानकारी के लिए यूपीएससी की वेबसाइट (www.upsc.gov.in) देख सकते हैं।

इंड़स्ट्री के हिसाब से हासिल करें स्किल

प्लीज मुझे बताएं कि प्राइवेट कॉलेज से बीसीए करने के बाद अच्छी जॉब मिल सकती है? यदि हां, तो किस सेक्टर में और सैलरी कितनी होगी?

अनिकेत

अगर प्राइवेट कॉलेज और उसका कोर्स एआइसीटीइ से मान्यताप्राप्त है, तो बेशक आपको बीसीए के आधार पर अच्छी जॉब मिल सकती है। हालांकि इसके लिए इतना ही पर्याप्त नहीं है। अच्छी नौकरी पाने के लिए आपको संबंधित फील्ड में मार्केट की रिक्वॉयरमेंट समझते हुए खुद को उसके मुताबिक स्किल्ड बनाना होगा। सिर्फ कोर्स या डिग्री के आधार पर आज के समय में नौकरी नहीं मिल सकती। इंडस्ट्री के अनुसार स्किल हासिल करेंगे, तो आपको खुद पर कॉन्फिडेंस भी होगा और प्लेसमेंट इंटरव्यू के लिए जाने पर आप अपना अच्छा इंप्रेशन जमा सकेेंगे। इंडस्ट्री की रिक्वॉयरमेंट को समझेंगे, तो डायरेक्ट रिक्रूटमेंट में भी इसका फायदा मिल सकता है।

कॉरेस्पॉन्डेंस से पूरी करें पढ़ाई

मैंने 2010 में अपनी स्कूलिंग पूरी की थी। कुछ कारणों से मुझे ग्रेजुएशन ड्रॉप करना पड़ा था। अब मैं किसी दूसरे सब्जेक्ट से रेगुलर स्टूडेंट के रूप में ग्रेजुएशन कंपलीट करना चाहता हूं। क्या ऐसा संभव है या नहीं?

विवेक शरण

कुछ संस्थानों में आप गैप का एफिडेविट देकर एडमिशन हासिल कर सकते हैं, लेकिन इसके लिए आपको अपने आस-पास के संस्थानों में जाकर संपर्क करना होगा। हां, इग्नू, डीयू की एसओएल आदि से आप करेस्पॉन्डेंस कोर्स करके अपनी एजुकेशन जारी रख सकते हैं। चाहे, तो ग्रेजुएशन में फ्रेश एडमिशन लेकर भी आगे की पढ़ाई कर सकते हैं। स्टडी के लिए आपके सामने कई विकल्प हैं।

सही दिशा में सही स्ट्रेटेजी से आगे बढ़ें

मैं इस समय ग्रेजुएशन सेकंड ईयर का स्टूडेंट हू। मुझे आइएएस की तैयारी करते 2 साल हो गए, लेकिन मैं खुद अपनी तैयारी से संतुष्टï नहीं हूं। मुझे समझ में नहीं आता कि कामयाबी सुनिश्चित करने के लिए किस तरह से तैयारी करूं?

शिवेंद्र चौहान

सबसे पहले तो यह देखें कि क्या सिविल सर्विसेज एग्जाम के लिए जरूरी स्किल आपमें है या नहीं? अगर आप खुद असंतुष्टï हैं, तो आप खुद को एकाग्र करके अपनी असंतुष्टिï का कारण भी ढूंढ़ सकते हैं। कमजोरियां-कमियां तलाश कर उन्हें दूर करें। जो पढ़ें, उसे पूरी तरह से समझने का प्रयास करें। किसी भी चीज को रटने या पन्ने पलटने की बजाय अपने कॉन्सेप्ट को क्लीयर करने का प्रयास करें। अपनी समझ-बूझ बढ़ाएं, ताकि किसी भी विषय पर खुद की तार्किक सोच विकसित कर सकें। सही दिशा में सही स्ट्रेटेजी से आगे बढ़ेंगे, तो कामयाबी एक न एक दिन जरूर मिलेगी।

-करियर से संबंधित सवाल

counselor@nda.jagran.com

पर ईमेल करके पूछ सकते हैं...

अरुण श्रीवास्तव

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप