संवाद सूत्र, नोवामुंडी : 15 वर्षीय नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म के दोनों आरोपित अमरजीत ¨सह उर्फ छोटू और भक्तबंधु पान उर्फ विकास को नोवामुंडी पुलिस ने गिरफ्तार कर शनिवार को जेल भेज दिया। पुलिस ने बताया कि मुख्य आरोपित अमरजीत ¨सह दूध बेचने के अलावा टाटा स्टील में भी नौकरी करता है। वह एलआरपी प्लांट में पदस्थापित है। उसका पिता दिनेश ¨सह टाटा स्टील कंपनी का सेवानिवृत सुरक्षाकर्मी है। दूसरा आरोपित भक्तबंधु पान नोवामुंडी स्थित कांग्रेस पार्टी के कार्यालय प्रभारी प्रफुल्ल दास का छोटा बेटा है। नोवामुंडी थाना में दोनों युवकों के खिलाफ अश्लील वीडियो दिखाकर ब्लैकमेल करने व पास्को एक्ट की धारा के तहत प्राथमिकी दर्ज हुई है। मामले में पुलिस अधीक्षक चंदन झा के निर्देश पर किरीबुरू पुलिस उपाधीक्षक डा. हीरालाल रवि ने एक जांच टीम गठित की गई थी। इंस्पेक्टर सुरेंद्र रवि दास के नेतृत्व वाली कमेटी में थाना प्रभारी नितिन कुमार ¨सह, प्रशिक्षु एसआइ सौरभ कुमार ठाकुर, एसआइ हेमन राम, एएसआइ में अखिलेश ¨सह, बीरबल चौबे, बीरबल यादव व भीम ¨सह शामिल थे। जांच के दौरान पुलिस दल ने लखनसाई से भक्तबंधु पान व बालीझरन क्वार्टर से अमरजीत ¨सह को गिरफ्तार कर पूछताछ की। पूछताछ के दौरान दोनों ने पुलिस के समक्ष अपना जुर्म स्वीकार किया। 30 वर्षीय भक्तबंधु पान पेशे से चालक है। उसकी दो पत्नी भी हैं। 25 वर्षीय अमरजीत ¨सह से जान पहचान होने के बाद स्कॉर्पियो चलाना भक्तबन्धु से ही सीखा था।

-------------

मेडिकल जांच में हुई दुष्कर्म की पुष्टि

पीड़िता का शनिवार को सदर अस्पताल में मेडिकल हुआ। मेडिकल में नाबालिग से दुष्कर्म होने की पुष्टि हुई। रिपोर्ट में इस बात का स्पष्ट उल्लेख है कि दो लोगों ने मिलकर उसके साथ दुराचार किया है। नोवामुंडी पुलिस ने मेडिकल जांच के बाद पीड़िता को उसके परिवारवालों के साथ घर भेज दिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस