जागरण संवाददाता, चाईबासा : अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ पश्चिमी सिंहभूम एवं सरायकेला खरसावां जिले के संयुक्त तत्वावधान में बिहार लोक सेवा आयोग द्वारा वर्ष 1994 में नियुक्त प्राथमिक शिक्षकों की सेवा के 25 वर्ष पूरा होने के अवसर पर 20 अक्टूबर को सुबह दस बजे से स्थानीय डीपीएस पब्लिक स्कूल सह इंटर कॉलेज के सभागार में 'रजत जयंती सह मिलन समारोह' का आयोजन किया गया है। इसमें एकीकृत पश्चिमी सिंहभूम जिले के लगभग 350 शिक्षकों के भाग लेने की संभावना है। समारोह का विधिवत उद्घाटन पश्चिमी सिंहभूम के उप विकास आयुक्त आदित्य रंजन करेंगे। इस अवसर पर जिला शिक्षा अधीक्षक अनिल कुमार चौधरी ने भी बतौर विशिष्ट अतिथि उपस्थित रहने की स्वीकृति प्रदान की है। उद्घाटन समारोह के बाद शिक्षकों द्वारा दो घंटे का सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया है जिसमें सृष्टि संस्था के द्वारा आधे घंटे का एक नाटक का भी मंचन किया जाएगा। दोपहर 1:30 बजे से कार्यक्रम का समापन समारोह प्रारंभ होगा। जिसमें उपायुक्त अरवा राजकमल बतौर मुख्य अतिथि एवं क्षेत्रीय शिक्षा उपनिदेशक, कोल्हान नारायण प्रसाद विश्वास सम्मानित अतिथि के रूप में उपस्थित रहेंगे। अखिल झारखण्ड प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष बिजेंद्र चौबे ने भी इस समारोह में शिरकत करने की स्वीकृति प्रदान की है। समापन समारोह में ही शिक्षकों को स्मृति चिन्ह प्रदान किया जाएगा। साथ ही शिक्षा एवं अन्य क्षेत्र में अपना योगदान देकर राष्ट्रीय एवं राज्य स्तर पर अपनी पहचान बनाकर शिक्षक समुदाय का मान बढ़ाया है।

ज्ञातव्य हो कि बर्ष 1994 में तत्कालीन बिहार सरकार द्वारा अविभाजित बिहार में पहली बार राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा प्रारंभिक एवं मुख्य परीक्षा का आयोजन कर लगभग 25000 शिक्षकों की नियुक्ति की गई थी। इसी क्रम में अविभाजित पश्चिमी सिंहभूम जिला में 12 उर्दू शिक्षक सहित कुल 753 शिक्षकों की नियुक्ति हुई थी जिन्हें जिला शिक्षा स्थापना समिति द्वारा गांधी जयंती के अवसर पर 2 अक्तूबर 1994 को स्थानीय संत जेवियर्स बालक विद्यालय में तत्कालीन उपायुक्त श्री सजल चक्रवर्ती द्वारा नियुक्ति पत्र प्रदान किया गया था।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप