संस, चाईबासा : चाईबासा जिला बार एसोसिएशन के आगे आरसीडी (रोड डिवीजन) ब्रेकर बन जाने से अब अधिवक्ताओं के पैर नहीं टूटेंगे। यह अधिवक्ताओं की वर्षो पुरानी मांग शुक्रवार को पूरी हो गई है। इसी के तहत शहर में बढ़ती दुर्घटनाओं को लेकर शहर में कई जगहों पर ब्रेकर बनाए गए हैं। झारखंड स्टेट बार काउंसिल के सदस्य अनिल कुमार महतो ने बताया कि ब्रेकर बनाने के लिए कई बार जिला प्रशासन व रोड डिवीजन को लिखित रूप में दिया गया था। यहां तक कि इसी रोड पर कई अधिवक्ता गाड़ियों की टक्कर में जख्मी भी हो चुके हैं। आखिरकार जिला प्रशासन ने बात को गंभीरता से सुनी और ब्रेकर लगवा दिया। मौके पर जिला बार एसोसिएशन के संयुक्त सचिव शरण कुमार पान, वरिष्ठ अधिवक्ता अंकुर कुमार चौधरी, सड़क सुरक्षा समिति के सदस्य सह अधिवक्ता राजाराम गुप्ता आदि उपस्थित थे। इसके अलावा अन्य स्थानों पर भी मॉडलर ब्रेकर लगाया गया है।

Edited By: Jagran