संसू, जैंतगढ़ : एकीकृत संघर्ष मोर्चा पारा शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष दीपक कुमार बेहरा ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बीएलओ कार्य, जातिगत जनगणना सहित सभी गैर शैक्षणिक कार्यों के बहिष्कार की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि एक सितंबर को राज्य इकाई की बैठक में लिए गए निर्णय के अनुसार चुनाव कार्य बीएलओ सहित सभी गैर शैक्षणिक कार्यों का बहिष्कार करने का निर्णय लिया गया था। इधर आंगनवाड़ी सेविका की हड़ताल में रहने के कारण पारा शिक्षकों को बीएलओ कार्य में लगाए जाने का संघ पुरजोर विरोध करता है। कोई भी पारा शिक्षक ना तो पत्र का आदेश स्वीकार करेंगे ना ही कोई बीएलओ के रूप में सेवा देगा। सरकार हमें ऐसा कर एक ओर जहां 12 सितंबर को आहत प्रधानमंत्री कार्यक्रम में न्याय यात्रा को प्रभावित करना चाहती है। वहीं, दूसरी ओर ग्रामीण स्तर से आंगनबाड़ी सेविकाओं से हमें लड़ाकर हमारी रीढ़ को कमजोर करना चाहती है। हमें ग्रामीण स्तर में व्यापक समर्थन प्राप्त है जो सरकार को हजम नहीं हो रही है। पारा शिक्षक संघ आंगनवाड़ी सेविका हड़ताल को नैतिक समर्थन करता है। सरकार हमें यूज एंड थ्रो समझती है जब चाहो काम ले लो जब चाहे दूध से मक्खी की तरह निकालकर फेंक दो । सरकार पारा शिक्षकों के साथ राजनीति कर रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस