जासं,सिमडेगा:जिले के बोलबा प्रखंड अंतर्गत कुंदुरमुंडा टकबहार में जहां बिजली के करंट हाथी की मौत हुई,वहां 11हजार वोल्ट की क्षमता वाले बिजली तार महज 10-11 फीट की ऊंचाई पर है। इस बात की पुष्टि करते हुए डीएफओ अरविद कुमार गुप्ता ने कहा बिजली तार नीचे होने के कारण ही जंगली हाथी उसकी चपेट में आया। जिस वजह से उसकी मौत हो गई।उन्होंने बताया कि घटना रात्रि 11 बजे के आस-पास की है।इस समय गांव वालों को ट्रांसफार्मर से तेज धमाके की आवाज सुनाई दी। इसके बाद बिजली भी कट गई। सुबह में लोगों को हाथी के मरने की जानकारी मिली। डीएफओ ने बताया कि हाथी के सूंढ़ व शरीर में जख्म के ताजे निशान मिले हैं। उसकी त्वचा के कुछ हिस्से बिजली तार में भी सटे मिले । वे इस संबंध में विद्युत विभाग को पत्र लिखेंगे और उसे वन क्षेत्र में बिजली तार को ऊंचा करने को कहेंगे।

Edited By: Jagran