बारियातू : उपायुक्त राजीव कुमार ने बारियातू प्रखंड कार्यालय में विकास की समीक्षा की। बैठक के दौरान उपायुक्त ने कहा कि जिले के विकास के लिए रोजगार सृजन जरूरी है। उन्होंने कहा कि सरकार के द्वारा संचालित योजनाओं को धरातल पर उतारकर गांव में रोजगार सृजन कर गांव से होने वाले पलायन को रोकें। उपायुक्त श्री कुमार ने गांव में रहने वाले प्रत्येक व्यक्ति के दोनों हाथों को काम मिले इसे सुनिश्चित करने की बात कही। बैठक में उपायुक्त ने स्पष्ट कहा कि गांव से अगर पलायन होगा तो संबंधित मुखिया व प्रखंड विकास पदाधिकारी पर जबावदेही तय करते हुए कार्रवाई की जाएगी। बैठक में मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास, शौचालय निर्माण, समेत अन्य योजनाओं की समीक्षा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। मौके पर डीआरडीए निदेशक संजय भगत, जिला योजना पदाधिकारी निर्मल झा, एनडीसी ¨प्रस गोडविन कुजूर, प्रखंड विकास पदाधिकारी संजय कुमार, मुखिया,वार्ड सदस्य,आंगनबाड़ी सेविका समेत अन्य कर्मी मौजूद थे।

प्रखंड के सभागर में बैठक करते हुए उपायुक्त ने कहा कि विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों को गुणवतापूर्ण शिक्षा मिले इसे शिक्षा विभाग के अधिकारी सुनिश्चित करें। उन्होंने शिक्षा विभाग द्वारा बच्चों को दिए जाने वाले छात्रवृति, मध्याहन भोजन समेत अन्य सुविधा हर हाल में देने का निर्देश दिया। उन्होंने बीआरपी एवं सीआरपी को बच्चों की उपस्थिति बढ़ाने, बच्चों के अभिभावकों को शिक्षा के प्रति जागरूक करने का निर्देश दिया। बैठक में उपायुक्त के समक्ष पारा शिक्षकों ने विभाग के द्वारा मानदेय कम देने की बात बताई गई। जिस पर उपायुक्त श्री कुमार ने विभाग के सचिव से बात कर समस्या समाधान करने की बात कही।

मुखिया को किया गया सम्मानित :

उपायुक्त ने गोनिया की मुखिया रानो देवी को अच्छे कार्य करने के लिए सम्मानित किया। उपायुक्त श्री कुमार ने कहा कि जनप्रतिनिधि जब अपने स्वार्थ से उपर उठकर कार्य करेंगे तो निश्चित ही पंचायत विकास की ओर अग्रसर होगा।

Posted By: Jagran