जागरण संवाददाता, सरायकेला : सरायकेला के सिदो-कान्हू पार्क में शुक्रवार को जिलाध्यक्ष जितेंद्र महतो की अध्यक्षता में पंचायत स्वयंसेवकों की बैठक हुई। इसमें दो सूत्री मांगों पर चर्चा की गई। मांगों को लेकर 20 फरवरी से मुख्यमंत्री आवास के समक्ष अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन कार्यक्रम को सफल बनाने का निर्णय लिया गया। जिला अध्यक्ष ने बताया कि पंचायत स्वयं सेवक संघ के आह्वान पर दो फरवरी से अपनी मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन हड़ताल पर हैं। अपनी मांगों के समर्थन में 20 फरवरी से मुख्यमंत्री आवास के समक्ष अनिश्चितकालीन धरना-प्रदर्शन करेंगे।

जिलाध्यक्ष ने कहा संघ की मुख्य मांग पंचायत सचिवालय स्वयं सेवक को समान काम के बदले समान वेतन के तहत अठारह हजार रुपये न्यूनतम मानदेय तथा पंचायत स्वयं सेवकों की साठ वर्ष उम्र तक सेवा नियमित की जाए। उन्होंने कहा कि पंचायत स्वयं सेवक गांव-गांव जाकर विकास योजनाओं में अपनी भागीदारी निभा रहे हैं। योजनाओं का लाभ लाभुकों तक पहुंचाने के लिए अपना दायित्व निभा रहे हैं। परंतु स्वयं सेवकों को मानदेय की जगह प्रोत्साहन राशि दी जा रही है। संघ के जिला अध्यक्ष महतो ने कहा कि जबतक सरकार उनकी दो सूत्री मांगों पर विचार नहीं करेगी उनकी हड़ताल जारी रहेगी। उन्होंने कहा कि जिले के पांच सौ सचिवालय स्वयंसेवक 20 फरवरी से मुख्यमंत्री आवास के समक्ष बेमियादी धरना-प्रदर्शन पर बैठ जाएंगे। बैठक में बबनू सरदार, कृष्णा महतो, नरेश प्रधान, जितेंद्र दरांव, अनिल कुमार, विमल महतो, देवती कुमारी, बबिता महतो, शंकर महतो, कमल महतो समेत जिले के विभिन्न प्रखंड के पंचायत सचिवालय स्वयं सेवक उपस्थित थे।

Posted By: Jagran