संवाद सूत्र, राजनगर : ईचा-खरकई बांध परियोजना का कार्य पुन: चालू होने से डैम डूब क्षेत्र के ग्रामीण काफी आक्रोशित हैं। ग्रामीण गांव-गांव में बैठक कर डैम निर्माण का विरोध कर रहे हैं। गुरुवार को कुजू पंचायत क्षेत्र के बालीडीह गांव में ग्राम प्रधान डोबरो मुंदुइया की अध्यक्षता में ग्रामीणों की बैठक हुई। बैठक में डैम के पुनर्निर्माण को लेकर ग्रामीणों ने सरकार की दोहरी राजनीति का विरोध किया और दिलीप बिल्डकॉन कंपनी को आदिवासियों का दुश्मन बताया। ग्राम प्रधान डोबरो मुंदुइया ने कहा कि यह राज्य सरकार व जनप्रतिनिधियों की मिलीजुली साजिश है। चुनाव के समय राजनीतिक पार्टी गांव में आकर डैम निर्माण को रद करने व आदिवासियों के अस्तित्व की रक्षा करने की बात करते हैं। परंतु चुनाव खत्म होते ही जनता के दुख दर्द की सुधि लेने तक नहीं आते। ग्रामीणों ने राज्य सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि एक सप्ताह के अंदर डैम का निर्माण करा रही कंपनी काम बंद नहीं करेगी तो कोल्हान की जनता कार्यस्थल पर विरोध-प्रदर्शन करेंगे। मौके पर मुकरु मुंदुइया, जयपाल बारदा, राली बारदा, साधो, शांति हेस्सा, नामसी बानरा समेत कई ग्रामीण उपस्थित थे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस