जागरण संवाददाता, सरायकेला: सरायकेला चैंबर ऑफ कॉमर्स ने अध्यक्ष प्रदीप कुमार चौधरी के नेतृत्व में रविवार को मुख्यमंत्री के नाम उपायुक्त को ज्ञापन सौंपा गया। ज्ञापन में कहा गया है कि रांची में युवा व्यापारी खीरवाल बंधुओं को 14 अक्टूबर को सरेआम गोली मार दी गई। राहुल और रोहित खीरवाल रांची के व्यस्ततम इलाके में गहना घर नाम से ज्वेलरी शॉप चलाते हैं। उन पर दिनदहाड़े दुकान में घुसकर गोली चलाई गई। घटना का सातवां दिन है लेकिन अपराधी पकड़ से दूर है। राजधानी ही नहीं झारखंड का हर व्यवसायी दहशत में हैं। सरायकेला चैंबर ऑफ कॉमर्स ने भी काला बिल्ला लगाकर पिछले तीन दिन इसका विरोध किया। रविवार को अल्टीमेटम का आखिरी दिन है। यदि आज शाम तक गहना घर की घटना में संलिप्त अपराधियों की यदि गिरफ्तारी नहीं होती है तो सोमवार 21 अक्टूबर को सरायकेला के सभी व्यापार-उद्योग बंद रहेंगे। सरायकेला खरसावां चैंबर भी एक दिन की हड़ताल पर रहेंगे। ज्ञापन में कहा गया है कि व्यापारी कब तक इस सिस्टम में बेबस लाचार और असुरक्षित रहेगा। इसी प्रकार पुलिस प्रशासन की विफलता जारी रही तो आगे की रणनीति बनाई जाएगी। ज्ञापन देने के बाद चैंबर ऑफ कॉमर्स ने अध्यक्ष प्रदीप कुमार चौधरी ने पत्रकारों को बताया कि अपराधियों के हौसले इस कदर बुलंद हैं कि वे दिनदहाड़े भीड़भाड़ वाले इलाके में घटना को अंजाम देकर आसानी से फरार हो जाते हैं। पुलिस कुछ नही कर पाती है। घटना के सात दिन हो गए लेकिन अभी भी अपराधी पकड़ से दूर हैं। ज्ञापन देने वालों में मनोज कुमार चौधरी, प्रेम अग्रवाल, विकास चौधरी, जितेन्द्र अग्रवाल आदि मौजूद थे।

---------------------

प्रशासन बताये कि कैसे व्यापार करें : प्रदीप चौधरी

सरायकेला-खरसावां चैंबर के प्रदीप कुमार चौधरी ने कहा कि सरकार का तंत्र फेल कर गया है। व्यापारियों को धमकी मिल रही है। प्रशासन ही बताए कि कैसे व्यापार करें। उन्होने कहा कि अपराधियों में पुलिस का डर नहीं होने के कारण ऐसी घटनाएं हो रही हैं। दिनदहाड़े भीड़भाड़ वाले इलाके में अपराधी घटना को अंजाम देकर चले जाते है पुलिस अबतक कुछ नही कर पाती है। प्रदीप कुमार चौधरी कहा कि सरकार व्यापारियों को पुरी सुरक्षा दे नही तो व्यापार करना मुश्किल हो जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप