एक जून से मिलने लगेगा गंगा का जलस्तर

जागरण संवाददाता, साहिबगंज : जिले में प्री मानसून बारिश शुरू है। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के अनुसार 10-12 जून से मानसून दस्तक दे देगी। इसे देखते हुए केंद्रीय जल आयोग ( सीडब्ल्यूसी) ने भी अपनी तैयारी शुरू कर दी है। एक जून से गंगा के जलस्तर की रिपोर्ट मिलनी शुरू हो जाएगी। इसके लिए सीडब्ल्यूसी की एक टीम ने साहिबगंज पहुंचकर गंगा के जलस्तर की मापी की और ओझा टोली में स्थापित सेटेलाइट की बैटरी सहित अन्य जरूरत की चीजों को बदला। सीडब्ल्यूसी के सबडिवीजन आफिस मुंगेर से दो जेई और दो स्टाफ पहुंचकर वर्तमान गंगा की जलस्तर को मापा। यह टीम बुधवार को मुंगेर लौट गई। रीजनल आफिस के रंजीत मिश्रा ने बताया कि तैयारी पूरी कर ली गई है। गौरतलब है कि मानसून प्रवेश करने के साथ ही बारिश शुरू हो जाएगी। इसके बाद गंगा के जलस्तर में भी वृद्धि होने लगती है। ऐसी स्थिति में जिला प्रशासन को जलस्तर के बारे में रिपोर्ट दी जाती है ताकि जलस्तर बढ़ने पर लोग सुरक्षित स्थानों की ओर जा सकें। सीडब्ल्यूसी द्वारा इलाहाबाद से लेकर फरक्का तक गंगा के जलस्तर के बारे में सूचना दी जाती है। बाढ़ के नो़डल पदाधिकारी अपर समाहर्ता द्वारा रिपोर्ट की प्रतिदिन समीक्षा की जाती है। सीडब्ल्यूसी के अनुसार गंगा नदी का वार्निंग लेवल 26.25 मीटर और खतरे का निशान 27.25 मीटर है।

Edited By: Jagran