साहिबगंज : जिले में गंगा नदी बुधवार को सुबह खतरे के निशान से एक मीटर उपर बह रही थी। केंद्रीय जल आयोग से मिली जानकारी के अनुसार साहिबगंज में गंगा नदी बुधवार सुबह 6 बजे 28.250 मीटर पर बह रही थी जबकि साहिबगंज में खतरे का निशान 27.250 मीटर है। आयोग के साहिबगंज प्रभारी रंजीत कुमार मिश्र ने बताया कि गंगा नदी का जलस्तर गुरुवार सुबह 6 बजे तक 28.310 मीटर पर पहुंचने की आशंका व्यक्त की गई है। साहिबगंज में जलस्तर उसके बाद भी बढ़ने का संकेत है। गंगा का जलस्तर खतरे के निशान को पार करने के बाद ही प्रतिदिन जल आयोग की ओर से फोरकास्ट जारी किया जा रहा है। गंगा का जलस्तर बक्सर व पटना में घट रहा है। हाथीदह व मुंगेर में स्थिर है। कहलगांव में बढ़ रहा है। साहिबगंज व फरक्का में धीमी गति से बढ़ने का अनुमान है। जिला प्रशासन की ओर से बाढ़ राहत का कार्य चल रहा है। उपायुक्त राजीव रंजन ने बताया कि जिले में बाढ़ आई है गंगा जलस्तर अभी खतरे के निशान से एक मीटर ऊपर है। साहिबगंज व राजमहल में गंगा नदी खतरे के निशान से उपर बह रही है। साहिबगंज प्रखंड के सकरीगली व राजमहल प्रखंड के लिए महाराजपुर में राहत शिविर का संचालन किया जा रहा है। जहां बाढ़ प्रभावित परिवारों के लिए रहने व खाने का इंतजाम किया गया है। जिले के सभी संबंधित अंचल अधिकारियों को बाढ़ पर नजर रखने के लिए कहा गया है। जिला आपदा विभाग को अंचल से प्रभावित परिवारों की सूची मिलने के बाद राहत सहायता उपलब्ध कराई ला रही है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप