साहिबगंज: लॉकडाउन की समाप्ति के बाद साहिबगंज-मनिहारी अंतरराज्यीय फेरी सेवा का संचालन किया जाएगा। गंगा कोशी नाव यातायात समिति बरारी को सशर्त परिचालन की अनुमति मिली है। साहिबगंज जिला के राजस्व शाखा की ओर से जारी आदेश में 1 अप्रैल 2020 के प्रभाव से यह अनुमति दी गई है परंतु लॉक डाउन के कारण फेरी सेवा बंद रहने की बात कही गई है। पिछले दिन गंगा कोशी नाव यातायात समिति ने इसके लिए आवेदन दिया था। इसमें बंदोबस्ती नहीं होने तक उसे फेरी सेवा संचालन का विस्तार करने की बात अनुमति प्रदान करने को कहा गया था। अपर समाहर्ता ने बताया है कि तीन माह के लिए जो जमा राशि पहले से तय की गई है उस राशि के जमा करने के बाद फेरी सेवा का संचालन करने का जिम्मा समिति का सौंपा जाएगा। बताते चलें कि साहिबगंज-मनिहारी अंतर्राज्यीय फेरी घाट की बंदोबस्ती झारखंड अंतर्गत साहिबगंज जिला प्रशासन की ओर से वर्ष 2020-21 और 21-22 के लिए किया जाना है। इसके लिए प्रशासनिक प्रक्रिया शुरू कर दी गई थी। फेरी सेवा की बंदोबस्ती को लेकर जिले में गहमागहमी भी शुरू हो गई थी। जिला प्रशासन ने डाक की अधिसूचना जारी कर दी है। इस बार बंदोबस्ती की सुरक्षित राशि 24.33 लाख रुपए निर्धारित की गई। डाक में शामिल होने के लिए 19 मार्च को सुरक्षित राशि की 33 फीसदी राशि जमा करानी थी। इसके बाद ही 20 मार्च को होने वाली खुली डाक में शामिल होने के लिए प्रक्रिया पूरी करनी थी। परंतु संतालपरगना के आयुक्त के आदेश पर इसे स्थगित कर दिया। इसके बाद लॉक डाउन लगने के कारण मार्च माह से अबतक डाक की प्रक्रिया पूरी नहीं की जा सकी है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस