मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, साहिबगंज : जिले में भूमि संरक्षण विभाग से जुड़ी कई योजनाएं चल रही हैं। दैनिक जागरण के लोकप्रिय कार्यक्रम जागरण प्रश्न पहर में बुधवार को जिला भूमि संरक्षण पदाधिकारी रामनंदन प्रसाद उपस्थित थे। उन्होंने बताया कि विभाग की ओर से मनरेगा से जिस किसान की खेत में कूप का निर्माण किया गया है वहां पंप सेट वितरण की योजना है। साथ ही सरकारी व निजी तालाबों के जीर्णोद्धार किया जा रहा है। उन्होंने किसानों द्वारा पूछे गए सभी सवालों का जवाब दिया।

सवाल : तालाब जीर्णोद्धार योजना क्या है इसका लाभ किस प्रकार मिलता है।

- साइमन हेम्ब्रम, बोरियो

तालाब जीर्णोद्धार योजना के तहत सरकारी एवं निजी पुराने तालाबों का जीर्णाेद्धार कर गहरीकरण किया जाता है। इसमें प्रति लाभुक को 15 लाख रुपये का अनुदान दिया जाता है। किसान इसका लाभ उठाकर जलग्रहण क्षमता बढ़ा सकते हैं।

सवाल : किसान पंपसेट योजना का लाभ कैसे ले सकते हैं।

- सिकंदर कुमार, बरहेट

पंपसेट योजना का लाभ मनरेगा के कूप के लाभुक को दिया जाता है। इसके लिए एक पंपसेट पर 25 हजार रुपये की राशि 90 फीसद अनुदान पर दी जाती है। साथ ही 10 फीसद किसान को लगाना पड़ता है।

सवाल : तालाबों के जीर्णोद्धार के चयन की क्या प्रक्रिया है।

- छोटन हेम्ब्रम, तालझारी

तालाब जीर्णोद्धार योजना अंतर्गत चयन प्रक्रिया में 75 फीसद योजना स्थानीय विधायक तथा 25 फीसद उपायुक्त के दिशा निर्देश पर लिया जाता है। किसानों को दोनों में से किसी की अनुशंसा का लाभ मिल सकता है।

सवाल : पंपसेट के लिए आवेदन कैसे करना है?

- धनंजय पासवान, तालझारी

पंप सेट की योजना के लिए सभी समाचार पत्रों में विज्ञापन प्रकाशित की गई है। हर प्रखंड में सिगल विडो सेंटर है। किसान वहां से फार्म प्राप्त कर सकते हैं।

सवाल : कृषि कार्य को बढ़ावा देने के लिए भूमि संरक्षण विभाग क्या कर रहा है।

- संजय गोस्वामी, पतना

जिला भूमि संरक्षण विभाग की ओर से कृषि कार्य को बढ़ावा देने के लिए फिलहाल दो योजनाएं चल रही है। इसके लिए अनुसूचित जाति, जनजाति, लघु, सीमांत कृषक समूह, महिला कृषक समूह चयन प्राथमिकता के आधार पर किया जाता है। विभाग मनरेगा के साथ योजना का कनर्वजेंस कर ज्यादा से ज्यादा किसानों को लाभ देने का प्रयास चल रहा है।

सवाल : पानी पंचायत समिति का गठन कैसे होता है।

- मनोज कुमार साह, बोरियो

जिले की पंचायतों में पानी पंचायत समिति का गठन होता है। इसके लिए गांव में बैठक कर अध्यक्ष, सचिव व कोषाध्यक्ष का चुनाव किया जाता है। पानी पंचायत को जिला भूमि संरक्षण विभाग के कार्य में प्राथमिकता दी जाती है।

सवाल : मुख्यमंत्री आशीर्वाद व प्रधानमंत्री कृषि सम्मान के लिए कौन कौन कागजात देना पड़ता है।

- प्रदीप सरकार, राजमहल

मुख्यमंत्री आशीर्वाद योजना व प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि योजना किसानों के लिए ही है परंतु इसके लिए विस्तृत जानकारी कृषि विभाग से मिल सकती है। प्रखंड में बीटीएम के माध्यम से कागजात को लेकर किसान जानकारी हासिल कर सकते हैं।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप