साहिबगंज : बरहेट बाजार स्थित राजकीय अनुसूचित जनजाति बालिका उच्च विद्यालय की सुरक्षा पर सवाल उठ रहे हैं। यह विद्यालय आवासीय है। कल्याण विभाग इसका संचालन करता है। करीब 250 छात्राएं यहां रहती हैं। दो दिन पूर्व रात में यहां की छात्राएं हॉस्टल से निकल कर दो युवकों के साथ चली गईं। रात में पड़ोस के एक टोले के कुछ युवकों ने दोनों युवक व दोनों छात्राओं को पकड़ लिया। वहां काफी हंगामा हुआ। बाद में किसी ने पुलिस को सूचना दे दी। इसके बाद बरहेट पुलिस ने वहां पहुंचकर दोनों छात्राओं को अपनी कस्टडी में ले लिया तथा कॉलेज के प्राचार्य को बुलाकर उनके हवाले कर दिया गया। बताया जाता है कि दोनों छात्राओं को विद्यालय से निकालने की बात चल रही है। यह तो गनीमत थी कि छात्राओं के साथ किसी प्रकार की घटना नहीं हुई। बरहेट थाना प्रभारी हरीश पाठक ने बताया कि स्कूल परिसर में मिट्टी का ढेर लगा हुआ है। इस वजह से चारदीवारी फांदकर स्कूल में पहुंचना व निकलना काफी आसान हो गया है। इसी का फायदा उठाकर दोनों छात्राएं स्कूल से भाग गई थीं। उन्होंने बताया कि छात्राओं के अभिभावकों को बुलाकर पूरे मामले से अवगत करा दिया गया है। कहा कि प्राचार्य को स्कूल परिसर से मिट्टी के ढेर को हटवाने को कहा गया है। उधर, मामले की जानकारी जिला कल्याण पदाधिकारी को भी दे दी गई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस