साहिबगंज: जिले में एक बार फिर से 331 विद्यालयों को मर्ज किया जाएगा। इसके लिए राज्य शिक्षा परियोजना ने जिला शिक्षा विभाग को सूची भेजी है। सूची को प्रावधान के अनुरूप जांच के बाद स्कूलों को मर्ज करने की कार्रवाई की जाएगी। जल्द ही राज्यस्तर पर टीम गठित कर इसकी जांच का जिम्मा सौंपा जाएगा। इसमें 217 मध्य विद्यालय के अलावा 10 छात्र से कम संख्या वाले दो प्राइमरी स्कूल, 30 छात्र से कम संख्या वाले 93 स्कूल एवं पहले चरण किसी कारण से मर्ज होने से बच गए 19 स्कूलों को भी दूसरे चरण में मर्ज करने के लिए सूचीबद्ध किया गया है। उक्त सभी स्कूलों की सूची डेटाबेस समेत जिला शिक्षा विभाग को उपलब्ध करा दी गई है। जिला शिक्षा विभाग उक्त सूची के आधार पर संबंधित प्रखंडों के बीईईओ से जांच कराने के बाद इसकी सूचना राज्य शिक्षा परियोजना को भेजेगी। उसके आधार पर राज्यस्तर पर तर्ज होने वाले स्कूलों की स्थिति का भौतिक सत्यापन कराकर आगे की कार्यवाही की जाएगी।

किस प्रखंड के कितने स्कूल होंगे मर्ज

प्रखंड का नाम स्कूल की सख्या

साहिबगंज 16

मंडरो 49

बोरियो 72

बरहेट 57

बरहड़वा 13

पतना 33

राजमहल 09

उधवा 12

तालझारी 70

------

पहले चरण में मर्ज हो चुके हैं 151 विद्यालय

जिले में पहले चरण में 151 विद्यालयों को विभिन्न कारणों से मर्ज किया जा चुका है। दरअसल पहले के चरण के तहत बीते जनवरी 2018 में जिले में 420 स्कूलों को मर्ज करने के लिए राज्य शिक्षा परियोजना की ओर से सूची उपलब्ध कराई गई थी, इसके आलोक में जिला शिक्षा विभाग ने प्रारंभिक जांच के बाद रिपोर्ट राज्य शिक्षा परियोजना को भेजा था, तब तीन मर्ज होने वाले स्कूलों की स्थिति की भौतिक सत्यापन होते राज्य स्तर पर तीन सदस्यीय टीम गठित की गई थी, जो लगभग डेढ़ माह तक सूचीबद्ध स्कूलों की स्थलीय जांच कर इसकी रिपोर्ट राज्य शिक्षा परियोजना को दी थी। उक्त रिपोर्ट के आधार में बीते जून माह में जिले के 151 स्कूलों को छात्र संख्या में कमी, या फिर आसपास स्कूल रहने या फिर अन्य कारणों से मर्ज कर दिया दिया था। कई स्कूलों को मर्ज किये जाने का लगातार विरोध होता रहा। इसमें से 11 स्कूलों को मर्ज किये जाने की जांच अब भी लंबित पड़ा है। बता दें कि जिले में पहले 1456 प्राइमरी व मीडिल स्कूल संचालित थे। जून 2018 में 151 स्कूलों के मर्ज कर दिये जाने के बाद से इसकी संख्या घट गई है।

-----

वर्जन

दूसरे चरण में स्कूलों को मर्ज करने के लिए राज्य शिक्षा परियोजना कार्यालय से कुल 331 स्कूलों की सूची मिली है। जल्द ही जांच कराकर इसकी रिपोर्ट राज्य को भेजी जाएगी।

प्रमोद प्रसाद, जिला शिक्षा अधीक्षक, साहिबगंज

Posted By: Jagran