रांची, जागरण संवाददाता। केंद्र सरकार के निर्देश पर कोरोना वायरस से लडऩे के लिए दी जाने वाली कोविड वैक्सीन की एक्सपायरी डेट बढ़ा दी गई है। वैक्सीन की एक्सपायरी को लेकर सेंट्रल ड्रग स्टेंडर्ड कंट्रोल आर्गेनाइजेशन (सीडीएससीओ) ने पत्र जारी कर बताया कि पिछले वर्ष अक्टूबर की एक्सपायरी डेट वाली वैक्सीन के एक्सपायर होने की तिथि को नौ से 12 माह तक के लिए बढ़ा दिया गया है।

वैक्सीन कंपनियों से विमर्श के बाद उठाया गया कदम

स्वास्थ्य विभाग के सूत्रों के अनुसार वैक्सीन निर्माता कंपनियों से उच्चस्तरीय विमर्श के बाद एक्सपायरी डेट को आगे बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। यह भी स्पष्ट किया गया है कि बढ़ाई गई एक्सपायरी डेट तक ये वैक्सीन पूरी तरह उपयोग लायक और सुरक्षित है। इससे पहले बड़ी मात्रा में वैक्सीन एक्सपायर हो जाने की वजह से बर्बाद हो जाने को लेकर चिंता जताई जा रही थी। वहीं वैक्सीन निर्माता कंपनियों ने भी एक्सपायरी डेट बढ़ाने का आग्रह किया था। सीडीएससीओ ने भारत बायोटेक इंटरनेशनल लिमिडेट को पत्र लिख बताया है कि यह कदम उनके द्वारा एक्सपायरी तिथि को बढ़ाने के आवेदन पर लिया गया है।

सीडीएससीओ की ओर से जारी किया गया है पत्र

रांची सदर अस्‍पताल के सिविल सर्जन डा. विनोद कुमार ने बताया कि सीडीएससीओ की ओर से पत्र जारी किया गया है, जिसमें स्पष्ट है कि अब तक जो भी वैक्सीन एक्सपायर हो रही थी, उनका भी उपयोग होगी। उन्होंने बताया कि इस संबंध में सारे निजी वैक्सीनेशन सेंटर को भी इसकी जानकारी पत्र के माध्यम से दे दी गई है।

एक्सपायर वैक्सीन वायल पर नया लेबल नहीं

एक्सपायर वैक्सीन वायल पर अभी नया लेबल नहीं लगाया गया है। राज्य टीकाकरण पदाधिकारी डा. राकेश दयाल ने बताया कि कोविशिल्ड वैक्सीन की एक्सपायरी नौ माह तक बढ़ा दी गई है, जबकि कोवैक्सीन की एक्सपायरी तिथि 12 माह बढ़ा दी गई है। इसी तरह स्पुतनिक वैक्सीन की भी एक्सपायरी तिथि बनने से 12 माह बढ़ा दी गई है। अगले लॉट में जो भी नई वैक्सीन आएगी, उसमें संशोधित एक्सपायरी तिथि लिखी होगी। बाद की खेप में आई 25 अक्टूबर 2021 के मैन्यूफैक्चर तिथि वाली वैक्सीन में सितबंर 2022 को एक्सपायर होने का लेबल लगा है।

कोवैक्सिन व स्पुतनिक 12 माह, कोविशिल्ड नौ माह बाद एक्सपायर

कोवैक्सीन और कोविशिल्ड वैक्सीन की एक्सपायरी डेट बढ़ा दी गई है। अब कोवैक्सीन के बनने की तिथि से 12 माह बाद एक्सपायर होगी, जबकि पहले यह छह माह में ही एक्सपायर हो चुकी थी। दूसरी ओर कोविशील्ड वैक्सीन बनने की तिथि से नौ माह बाद एक्सपायर होने की तिथि तय की गई है।

टीकाकरण सेंटर में नहीं लगी है सूचना

अभी तक किसी भी वैक्सीनेशन सेंटर में इस बदलाव को लेकर कोई सूचना नहीं लगाई गई है। दूसरी ओर बिना जानकारी दिए लोगों को एक्सपायर वैक्सीन दी जा रहा है, जिसे लेकर कई अभिभावक परेशान हैं। रविवार को ऐसा ही मामला सामने आया, जिसमें निजी अपोलो क्लिनिक में एक किशोर सार्थक शर्मा को नवंबर 2021 को एक्सपायरी डेट लिखी कोवैक्सीन दी गई। उसके पिता सत्यनारायण शर्मा ने काफी पूछताछ की, लेकिन कोई सटीक जवाब नहीं मिल पाया। सत्यनारायण शर्मा ने बताया कि अगर एक्सपायरी डेट बढ़ाई गई है तो वायल में इसका जिक्र होना चाहिए। नोटिस बोर्ड में भी सूचना लगानी चाहिए थी, ताकि लोग जान सके।

स्टोरेज को लेकर भी सवाल

एक ओर एक्सपायर वैक्सीन की तिथि बढ़ाने का आदेश जारी किया गया है। वहीं, सीडीएससीओ के मुताबिक ऐसी वैक्सीन तब ही कारगर है, जब उन्हें बताए गए तापमान पर स्टोर किया गया हो। बताए गए तापमान के अनुसार वैक्सीन को दो से आठ डिग्री के तापमान में रखना जरूरी है। फिलहाल इसके स्टोरेज को लेकर भी कई लोग सवाल उठा रहे हैं।

कोवैक्सीन

  • मैन्यूफैक्चर --- एक्सपायर --- संशोधित एक्सपायर तिथि
  • अप्रैल 2021 -- सितंबर 2021 --- मार्च 2022
  • मई 2021 -- अक्टूबर 2021 --- अप्रैल 2022
  • जून 2021 -- नवंबर 2021 --- मई 2022
  • जुलाई 2021 -- मार्च 2022 --- जून 2022
  • अगस्त 2021 -- अपैल 2022 -- जुलाई 2022

कोविशिल्ड और स्पूतनिक वैक्‍सीन

इसी तरह कोविशिल्ड और स्पूतनिक वैक्‍सीन भी मैन्यूफैक्चर तिथि से नौ माह बाद अब एक्सपायर होंगी। स्पूतनिक वैक्‍सीन भी 12 माह बाद यानी की अभी तक के सभी लॉट के अनुसार स्पूतनिक की संशोधित एक्सपायरी तिथि अपैल 2022 होगी।

Edited By: M Ekhlaque