जागरण संवाददाता, रांची : रांची जिला में 2.5 लाख ऐसे लोग हैं, जिन्होंने कोरोना से बचाव के लिए वैक्सीन की पहली डोज तो ले ली लेकिन दूसरी नहीं ली है। जबकि प्रशासन द्वारा डोज लेने के उनके घर पर डोर-टू-डोर अभियान चलाया जा रहा है। उन्हें घर पर सहिया, सेविका या बूथ लेबल ऑफिसर द्वारा वैक्सीन के लिए पर्ची दिया जा रहा है, जिसमें उन्हें वैक्सीन के लिए याद दिलाया जा रहा है। उपायुक्त छवि रंजन ने कहा कि जिन लोगों का नंबर आ गया है वह अपना वैक्सीन जरूर लें। कोरोना से बचने के लिए लोगों को वैक्सीन लेना जरूरी है। इस दिशा में सहयोग करें।

रांची जिला में 15,84,621 लोगों को पहली डोज मिल चुकी है। जबकि दूसरा डोज सिर्फ 799632 लोगों ने ही लगवायी है। इसमें से 2.5 लाख लोगों का दूसरी डोज का नंबर भी पार गया है। जबकि रांची में 18 वर्ष से अधिक लोगों की संख्या 21 लाख से ज्यादा है। वहीं, जिला प्रशासन ने यह इशारा किया है कि अगर समझाने और जागरूक करने के बाद भी लोग वैक्सीन नहीं लेंगे, तो उन्हें मजबूरन सख्ती बरतना पड़ेगा। 60 हजार से अधिक आवेदनों का हुआ निष्पादन : जिला प्रशासन को 90 लाख से अधिक आवेदन आपके अधिकार-आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत आ चुका है। इसमें 60 हजार आवेदनों का निष्पादन किया जा चुका है। 28 दिसंबर तक सभी आवेदनों का शत-प्रतिशत निष्पादन करने का लक्ष्य है। इसलिए बीडीओ और सीओ को भी निर्देश दिया गया है कि वह हर हाल में इस दिशा में तेजी से काम करें।

Edited By: Jagran