संजय कुमार, रांची

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस), रांची महानगर की ओर से 20 फरवरी गुरुवार को संघ समागम का आयोजन किया गया है। इसमें पूर्ण गणवेशधारी स्वयंसेवक ही भाग ले सकेंगे। कार्यक्रम में शामिल स्वयंसेवकों को आरएसएस के सरसंघचालक डॉ. मोहन भागवत संबोधित करेंगे। संघ प्रमुख झारखंड के पांच दिवसीय दौरे पर 19 फरवरी को रांची पहुंचेंगे। पांचों दिन उत्तर पूर्व क्षेत्र(झारखंड एवं बिहार) के क्षेत्र एवं प्रांत स्तरीय स्वयंसेवकों के साथ अलग-अलग विषयों पर चर्चा करेंगे। बैठक में संघ प्रमुख के सामने पश्चिमी सिंहभूम में सात आदिवासियों की हुई हत्या का मामला भी रखा जा सकता है।

रांची महानगर के कार्यवाह धनंजय सिंह ने कहा कि संघ समागम की तैयारी रांची महानगर के सभी शाखाओं पर पिछले तीन माह से चल रही है। 20 फरवरी के कार्यक्रम में वहीं स्वयंसेवक भाग ले सकेंगे, जो पूर्ण गणवेश में पहुंचेंगे। गणवेश में शर्ट, फूल पैंट, टोपी, मोजा, बेल्ट एवं दंड शामिल है। गणवेश के सभी सामान निवारणपुर स्थित आरएसएस के प्रांत कार्यालय में उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि पूर्ण गणवेशधारी स्वयंसेवकों का पंजीकरण सभी शाखाओं पर चल रहा है। जिनका गणवेश अभी तक नहीं बना है वे निश्चित रूप से गणवेश खरीद लें। कार्यक्रम के दिन चाहकर भी बिना पूर्ण गणवेश के प्रवेश नहीं मिलेगा। संघ परिवार से जुड़े लोगों के लिए भी उन्होंने कहा कि सभी लोगों को पूर्ण गणवेश में आने पर ही प्रवेश मिलेगा। महत्वपूर्ण इनसेट राष्ट्रीय सेविका समिति की

अखिल भारतीय कार्यकारिणी की बैठक 14 फरवरी से रांची में जासं, रांची : राष्ट्रीय सेविका समिति की अखिल भारतीय कार्यकारिणी की बैठक पहली बार झारखंड में होने जा रही है। 14 से 17 फरवरी तक आयोजित यह बैठक रांची के सरला बिरला स्कूल में होगी। इस बैठक में अखिल भारतीय संघचालिका, कार्यवाहिका एवं सह कार्यवाहिका सहित सभी क्षेत्र एवं प्रांत की संघचालिका, कार्यवाहिका एवं सह कार्यवाहिका भाग लेंगी। चार दिनों तक चलने वाली इस बैठक में देश में महिलाओं की स्थिति, उनकी सुरक्षा एवं अन्य सामयिक विषयों पर चर्चा होगी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस