रांची, (संजय कुमार)। RSS Celebrate 75th Anniversary Of Independence : स्वतंत्रता की 75वीं वर्षगांठ (75th Anniversary Of Independence) पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (Rashtriya Swayamsevak Sangh) (आरएसएस) व अनुषांगिक संगठन, भारत सरकार के आयुष मंत्रालय (Ministry of AYUSH), पतंजलि विद्यापीठ (Patanjali Vidyapeeth) एवं कई अन्य संस्थाओं के सौजन्य से आयोजित 75 करोड़ सूर्य नमस्कार कार्यक्रम (Surya Namaskar Program) में पूरे देश से विद्या भारती (Vidya Bharti) के लगभग आठ लाख बच्चे शामिल होंगे।

आरएसएस के स्वयंसेवक शाखाओं में करेंगे सूर्य नमस्कार

कोरोना संक्रमण के कारण अधिकतर राज्यों में स्कूल बंद रहने के कारण ये बच्चे अपने-अपने घरों से इस कार्यक्रम से आनलाइन जुड़ेंगे, जबकि आरएसएस के स्वयंसेवक शाखाओं में सूर्य नमस्कार करेंगे। वहीं समविचारी संगठनों और समाज के लोग व उनके परिवार के सदस्य छोटे-छोटे समूहों में निर्धारित स्थान के साथ-साथ अपने-अपने घरों पर भी सूर्य नमस्कार करेंगे।

वीडियो बनाने का लोगों से किया गया आग्रह

कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए जिला स्तर से लेकर प्रांत स्तर तक पर समिति का गठन किया गया है। सभी जिलों में समिति के लोग प्रत्येक दिन इसकी संख्या संग्रह करेंगे, जिसे प्रांत में भेजेंगे। लोगों से इसका वीडियो बनाने का भी आग्रह किया गया है।

हैदराबाद में संघ समन्वय की हुई बैठक में हुई थी चर्चा

लगभग सभी जिलों में आयोजित होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रम को कोरोना संक्रमण को देखते हुए स्थगित कर दिया गया है। शुक्रवार से शुरू यह कार्यक्रम सात फरवरी तक चलेगा। शुक्रवार को कई प्रांतों में यह कार्यक्रम प्रारंभ कर दिया गया है। झारखंड में यह कार्यक्रम 16 से 23 जनवरी तक रखा गया है। पिछले दिनों हैदराबाद में संघ समन्वय की हुई बैठक में भी इसपर चर्चा हुई थी।

स्कूली बच्चे अपने घरों में 15 मिनट तक करेंगे कार्यक्रम

विद्या भारती के राष्ट्रीय महामंत्री श्रीराम आरावकर ने कहा कि कोरोना संक्रमण के कारण विद्या भारती के अधिकतर स्कूल बंद हैं। बच्चे आनलाइन कक्षा करते हैं। सुदूर गांवों में नेटवर्क नहीं रहने के कारण सभी बच्चे इस अभियान में शामिल नहीं हो सकेंगे। जो बच्चे शामिल होंगे वे आरएसएस एवं अनुषांगिक संगठनों की ओर से सूर्य नमस्कार के लिए निर्धारित समय में कक्षा प्रारंभ होने से पहले 15 मिनट घरों में सूर्य नमस्कार करेंगे। विद्या भारती के अखिलेश कुमार ने कहा कि इस अभियान में झारखंड में 25 हजार बच्चे शामिल होंगे।

सामाजिक संगठनों को भी किया जा रहा है शामिल

सूर्य नमस्कार कार्यक्रम में आरएसएस के साथ-साथ अनुषांगिक संगठनों में विद्या भारती, विहिप, हिंदू जागरण मंच, क्रीड़ा भारती, आरोग्य भारती, अभाविप, वनवासी कल्याण केंद्र के लोग भाग ले रहे हैं।

Edited By: Sanjay Kumar