कोडरमा, जागरण संवाददाता। दिल दिया है, जान भी देंगे, ऐ वतन तेरे लिए...। कोडरमा जिले के उग्रवाद प्रभावित प्रखंड सतगावां के जंगली क्षेत्र स्थिति राजाबर पंचायत में मंगलवार को गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर लोगों में देशभक्ति की भावना खूब दौड़ी। हजारीबाग 22वीं वाहिनी केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के कमांडेंट आरके सिंह के दिशा निर्देश पर पुलिसिंग सिविक एक्शन 2022-23 कार्यक्रम में जवानों ने देशभक्ति के गीत गाकर लोगों को घंटों बांधे रखा। स्थानीय ग्रामीण भी इनके साथ ताल में ताल मिलाकर झूमते रहे।

जंगली क्षेत्रों में बाटे खेल के उपकरण

जंगली क्षेत्र में देशभक्ति गीतों के इस कार्यक्रम से घंटों समां बंधी रही। मौके पर ग्रामीणों बीच पानी टंकी, रेडियो, खेल सामग्री, बॉलीबॉल, नेट, फुटबॉल, बैट-बॉल, विकेट, जर्सी आदि सामग्री का केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल जी/ 22 वीं वाहिनी के सहायक समादेष्टा देवेंद्र कुमार के नेतृत्व में वितरण किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में प्रखंड विकास पदाधिकारी सह अंचलाधिकारी बैद्यनाथ उरांव मुख्य रूप से उपस्थित थे। मौके पर मुख्य अतिथि उरांव ने राष्ट्रीय मतदाता दिवस के मौके पर उपस्थित जवानों व ग्रामीणों को लोकतंत्र में अपनी पूर्ण आस्था रखने की शपथ दिलाई। साथ ही साथ उन्होंने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि सीआरपीएफ के द्वारा जो भी इस प्रखंड में किया जा रहा है, काफी सराहनीय है।

लोगो को आत्मनिर्भर बनने की अपील

वहीं सहायक समादेष्टा देवेंद्र कुमार ने उपस्थित ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल हमेशा से इस क्षेत्र में अमन शांति व् आमजनता के कल्याण एवं उनके उज्ज्वल भविष्य के प्रति हमेशा साथ रहा है। उग्रवाद प्रभावित प्रखंड के बच्चों -बच्चियों के साथ साथ लोगों के बीच जाकर समन्वय स्थापित कर आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया व सहयोग करने की अपील की। साथ ही साथ उन्होंने कहा कि इस तरह की कई योजनाएं इस बल के द्वारा किया जाता रहा है, ताकि इसका फायदा लेकर बच्चों व बच्चियां के साथ साथ आम लोग आत्मनिर्भर बनें। इसके अलावा बीच-बीच में इनके द्वारा आयोजित कार्यक्रम से सुदूरवर्ती क्षेत्रों के बच्चे-बच्चियों के साथ साथ आम लोगों में मनोवैज्ञानिक चेतना का भी विकास हो रहा है।

लोगों को जागरूक कर रही सीआरपीएफ

नक्सल प्रभावित इलाकों में सीआरपीएफ ना केवल सुरक्षा की भावना पैदा कर रही है, बल्कि शिक्षित युवा युवतियों को प्रशिक्षण व खेल सामग्री वितरण करा कर उन्हें जागरूक कर रही है। सहायक समादेष्टा देवेंद्र कुमार ने कहा कि आज जिस घरों में बिजली व टीवी नहीं है और देश दुनिया को खबरों को उनके तक नहीं पहुंच पाता है, उन घरवालों को देश समाज से जुड़ने के लिए सीआरपीएफ के द्वारा रेडियो का वितरण किया गया है। वहीं सीआरपीएफ के द्वारा मुर्गीपालन हेतु शेड बनाकर और कुछ ग्रामीण इलाकों में जनता को पानी पीने की समस्या हो रही थी उस इलाके में हैण्डपम्प (चापाकल) लगाया गया। मौके पर एसआई मुकेश यादव, मुखिया परमेश्वर शर्मा, निरीक्षक सतपाल,उपनिरीक्षक एम एम मंडल के अलावा सीआरपीएफ जी/22 वाहिनी के जवान सहित काफी संख्या में महिलाएं, पुरूष व बच्चे मौजूद थे।

Edited By: Madhukar Kumar