Move to Jagran APP

दिल्ली एयरपोर्ट से रांची के लिए निकला था युवक, छत्तीसगढ़ के डैम में 17 टुकड़ों में मिली लाश

Korba Murder छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में स्थित डैम में एक युवक की 17 टुकड़ों में कटी बॉडी बरामद हुई है। शव को बैग और दो बोरे में भरकर डैम में फेंका गया था। पुलिस ने कटे सिर के साथ 17 से ज्यादा हिस्सों में कटी बॉडी को बरामद कर लिया है। बॉडी के साथ एक पासपोर्ट बरामद हुआ है जिससे युवक के रांची के होने की आशंका है।

By Jagran News Edited By: Mohit Tripathi Thu, 11 Jul 2024 09:29 AM (IST)
सऊदी से दिल्ली और दिल्ली से रांची के लिए निकला था युवक, कोरबा में टुकड़ो में मिली लाश। (सांकेतिक फोटो)

जागरण संवाददाता, रांची। छत्तीसगढ़ में एक युवक की निर्मम हत्या उसके शव को 17 से अधिक हिस्सों में काटकर बैग और दो बोरे में भरकर डैम में फेंक दिया गया। पहले युवक के पैर और शरीर के कुछ अंग मिले। तलाशी लिए जाने पर डैम से कटा हुआ सिर भी बरामद कर लिया गया।

छत्तीसगढ़ के कोरबा जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग से सटे डैम के पास से बुधवार दोपहर करीब 12 बजे गुजर रहे कुछ ग्रामीणों को दुर्गंध आई तो, उन्होंने इसकी जानकारी पुलिस को दी।

हत्या करने के बाद शव को कई हिस्सों में काटकर लाने और उसे राष्ट्रीय राजमार्ग से सटे इस डैम में ठिकाने लगाने की आशंका जताई जा रही है।

छत्तीसगढ़ पुलिस को शव के पास पासपोर्ट और आधार कार्ड मिला, जिसमें रांची के राजा कॉलोनी निवासी वसीम लिखा है। पुलिस आशंका जता रही है कि मृतक वसीम है।

छत्तीसगढ़ पुलिस ने इस मामले में रांची पुलिस से संपर्क किया। इसके बाद लोअर बाजार थाना की पुलिस वसीम के घर पहुंची तो खबर की पुष्टि होने से पहले ही घर में मातम पसर गया। परिवार में सभी का रो रोकर बुरा हाल है।

पासपोर्ट के अनुसार, परिवार के सदस्य शव वसीम का ही समझ रहे हैं। मिली जानकारी के मुताबिक, वसीम अंसारी दो-ढाई साल से सऊदी अरब में सेफ्टी ऑफिसर के रूप में काम कर रहा था।

उसका एक भाई मोहसिन भी सऊदी अरब में ही है। इसका एक और भाई तहसीन भी कुछ साल पहले ही सऊदी से रांची अपने घर लौटा था। हालांकि, जो शव मिला है और जो पासपोर्ट पर लगी तस्वीर है, दोनों में थोड़ा अंतर है।

वसीम के परिजन भी नहीं कर पा रहे शव की पहचान 

परिवार स्पष्ट नहीं कर पा रहा है कि जो शव बरामद किया गया है, वह वसीम का ही है। लेकिन पासपोर्ट के आधार पर संदेह पैदा हो रहा है।

पुलिस को पूछताछ में पता चला है कि वसीम सऊदी दम्माम से दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचा। यहां से रांची अपने घर के लिए रवाना हुआ तो छत्तीसगढ़ कैसे पहुंचा, यह संदेह के घेरे में है।

वहीं जो शव बरामद हुआ है वह वसीम का ही है, इसकी अधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। पासपोर्ट के आधार पर शव वसीम का बताया जा रहा है।

पासपोर्ट से कहीं गुमराह करने की साजिश तो नहीं

इस पूरे मामले में यह सवाल उठता है कि आरोपित की मंशा मृतक की पहचान छिपाना है, तो शव को काटने के बाद कटे हुए अंग के साथ उसके कपड़े और पासपोर्ट क्यों रखा।

जिस डर से घटना को अंजाम दिया गया है। उससे एक बात साफ है कि हत्या के बाद बड़े इत्मीनान से शव को हथियार से कई हिस्सों में काटा गया है।

ऐसे में हड़बड़ी या गड़बड़ी हो, ऐसा भी नहीं माना जा सकता। कहीं यह पुलिस को गुमराह करने का षडयंत्र तो नहीं। इन सभी सवालों का जवाब जैसे- जैसे जांच आगे बढ़ती जाएगी, मिलता जाएगा।

यह भी पढ़ें: Jharkhand: कोरबा में 17 टुकड़ों में युवक का मिला शव, बैग और बोरी में मिले शरीर के अंग; जांच में जुटी पुलिस

 देवघर में बदमाशों ने दिनदहाड़े रोड पर मचाया तांडव, जमकर की हवाई फायरिंग; रंगदारी से जुड़ा ये है पूरा मामला

Giridih Crime News: जंगल में मिली मासूम सगे भाई-बहन की लाश, 10 माह के बच्चे के साथ मां लापता