Move to Jagran APP

Ram Navami 2020: लॉकडाउन के बीच रांची में मनाई जा रही रामनवमी, घरों में ही श्रीराम की आराधना कर रहे श्रद्धालु

Ram Navami 2020. मंदिर जाने के बजाय श्रधालु अपने-अपने घरों में ही श्रीराम और पवनसूत हनुमान की कर रहे आराधना। मंदिरों में सिर्फ पुजारी। आम लोगों का प्रवेश वर्जित।

By Sujeet Kumar SumanEdited By: Thu, 02 Apr 2020 02:47 PM (IST)
Ram Navami 2020: लॉकडाउन के बीच रांची में मनाई जा रही रामनवमी, घरों में ही श्रीराम की आराधना कर रहे श्रद्धालु

रांची, जासं। लॉकडाउन के बीच आज गुरुवार को रामनवमी के दिन मर्यादापुरुषोत्तम श्रीराम का जन्मोत्सव मनाया जा रहा है। श्रद्धालु श्रीराम व पवनसूत हनुमान की आराधना में लीन हैं। कोरोना महामारी के आक्रांत के कारण श्रद्धालु मंदिर जाने के बजाय घर में ही पूजा-अर्चना कर रहे हैं। प्रमुख मंदिर भी लगभग खाली हैं। मंदिर के पुजारी पूजन-हवन करा रहे हैं। निवारणपुर तपोवन मंदिर रामनवमी का प्रमुख केंद्र माना जाता है। वहां भी सन्नाटा पसरा हुआ है। कुछ ही मंदिरों में थोड़ी-बहुत भीड़ नजर आ रही है।

निवारणपुर तपोवन मंदिर में आम श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक लगा दिया गया है। मंदिर के महंत रामशरण दास के सानिध्य में 6 पुजारी हनुमान चालिसा का पाठ कर रहे हैं। यही स्थिति चुटिया श्रीराम मंदिर, मेन रोड हनुमान मंदिर की है। सुबह के समय 2-4 श्रद्धालु पूजा के लिए आए। बाद में भीड़ से बचने के लिए मंदिर का द्वार बन्द कर दिया गया है। जो श्रद्धालु आ रहे हैं, वो बाहर से ही दर्शन कर लौट रहे हैं। दूसरी ओर चैती नवरात्र का आज अन्तिम दिन है। मां दुर्गा के नवम रूप सिद्धिदात्री की पूजा की जा रही है। शुक्रवार को विधि-विधान से विसर्जन किया जाएगा।

पुलिस ने बंद कराई पूजन सामग्री की दुकानें

रामनवमी की खरीदारी को लेकर सुबह के समय मोरहाबादी में पूजन सामग्री व फलों की दुकानों पर भीड़ लग गई। शारीरिक दूरी का पालन किए बिना लोग खरीददारी कर रहे थे। भीड़ होने की सूचना पर बरियातू पुलिस मौके पर पहुंची और दुकानों को बन्द कराया।

मंदिरों पर पुलिस की विशेष नजर

मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ ना हो जाए, इस कारण सुबह से ही निगरानी रखी जा रही है। विभिन्न थाना क्षेत्र की पुलिस गश्त लगाकर मंदिरों पर नजर रख रही है। अगर कहीं मंदिर खुला पाया जाता है तो उसे बंद करने को कहा जा रहा है। आम श्रद्धालुओं से भी घरों में रह कर ही पूजा-अर्चना की अपील कर रहे हैं।