रांची, राज्य ब्यूरो। Pradhan Mantri Laghu Vyapari Mandhan Yojana - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी छोटे कारोबारियों को पेंशन की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए खुदरा कारोबारी एवं स्वरोजगार पेंशन योजना (प्रधानमंत्री लघु व्यापारी मानधन योजना) का शुभारंभ रांची से करेंगे। इस योजना का लाभ झारखंड के लगभग 15 हजार छोटे कारोबारियों-दुकानदारों सहित देश के पांच करोड़ छोटे कारोबारियों को मिलेगा। इससे जुडऩेवाले सभी छोटे कारोबारियों को प्रतिमाह तीन हजार रुपये पेंशन मिलेगी। राज्य में यह योजना श्रम, नियोजन एवं प्रशिक्षण विभाग लागू कर रहा है।

छोटे दुकानदारों, व्यापारियों, होटल संचालकों सहित तमाम वैसे लघु व्यापारियों जो आयकर की श्रेणी में नहीं आते हैं उन्हें इस योजना का लाभ मिलेगा। 60 वर्ष आयु के बाद लाभुकों को प्रतिमाह तीन हजार रुपये पेंशन मिलेगी। इस योजना का लाभ दुकानों, होटलों आदि के संचालकों के अलावा वहां काम करनेवाले कर्मियों को भी मिलेगा बशर्ते वे ईएसआइ या आयकर के दायरे में नहीं आते हैं।

इसके लिए लाभुकों को 18 वर्ष से 40 वर्ष तक आयु के अनुसार 55 रुपये से 200 रुपये तक प्रतिमाह प्रीमियम के रूप में जमा करनी होगी। इतनी ही राशि केंद्र सरकार देगी। यदि कोई लाभुक 10 वर्ष से पहले राशि निकालना चाहता है तो उसके हिस्से की राशि ब्याज सहित लौटा दी जाएगी। इस योजना के तहत लाभुक की मृत्यु के बाद उसकी पत्नी को 50 फीसद पेंशन मिलती रहेगी।

क्या है कारोबारी पेंशन योजना?

  • इस योजना के तहत 60 वर्ष की उम्र के बाद छोटे कारोबारी कम से कम 3,000 रुपये मासिक पेंशन के हकदार होंगे।
  • योजना का लाभ उन सभी कारोबारियों को मिलेगा जिनका जीएसटी के तहत सालाना टर्नओवर 1.5 करोड़ रुपये से कम है।
  • योजना का लाभ लेने के लिए 18-40 वर्ष आयु वर्ग के कारोबारियों को इस योजना में खुद को पंजीकृत कराना होगा।
  • पंजीकरण देशभर में फैले 3.25 लाख कॉमन सर्विस सेंटरों (प्रज्ञा केंद्रों) में होगा।
  • इस योजना के तहत 3 साल में देशभर से करीब 5 करोड़ छोटे कारोबारियों को पंजीकृत करने का लक्ष्य है।

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस