रांची, जासं। करीब 40 लाख रुपये की टेरर फंडिंग से जुड़े मामले में बुधवार को एनआइए की विशेष अदालत ने पीएलएफआइ सुप्रीमो दिनेश गोप, अरुण गोप, नंदलाल स्वर्णकार, जितेंद्र कुमार, नवीन भाई पटेल सहित 10 के खिलाफ संज्ञान लिया है। अदालत ने राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) को 14 नवंबर को पुलिस पेपर प्रस्तुत करने का आदेश दिया है। मामला एनआइए 02/18 से जुड़ा है। नोटबंदी के समय बेड़ो थाने की पुलिस ने 25.38 लाख रुपये के 500 व 1000 रुपये के नोट के साथ दिनेश गोप के सहयोगी व पेट्रोल पंप कर्मी को गिरफ्तार किया था।

इस मामले में बेड़ो थाना पुलिस ने कांड संख्या 67/16 दर्ज किया था। टेरर फंडिंग से जुड़ा मामला होने के कारण दो साल बाद एनआइए ने केस को टेकओवर कर लिया। प्राथमिकी दर्ज करने के बाद एनआइए ने दिनेश गोप के संभावित ठिकाने पर छापेमारी कर करीब 70 लाख रुपये के चल-अचल संपत्ति जब्त की है। दिनेश गोप अब भी फरार है, जबकि इस मामले में 10 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप