रांची, राज्य ब्यूरो। चतरा के टंडवा स्थित आम्रपाली व मगध प्राेजेक्ट से कोयला खनन व ट्रांसपोर्टिंग में करोड़ों की लेवी वसूली मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआइए) ने मंगलवार को ताबड़तोड़ छापेमारी की। एनआइए अफसरों ने झारखंड पुलिस के सहयोग से झारखंड-पश्चिम बंगाल के 15 ठिकानों पर एक साथ दबिश दी।

इन ठिकानों में रांची, हजारीबाग, जमशेदपुर व दुर्गापुर के कोयला कारोबारियों के कार्यालय व आवास शामिल हैं। एनआइए के अनुसार वैसे लोगों के यहां छापेमारी की गई है, जो आम्रपाली व मगध कोलियरी से कोयला खरीदते हैं और उसका ट्रांसपोर्ट करते हैं। ऐसे आरोपितों की भूमिका उग्रवादियों संगठनों को लेवी उपलब्ध कराने में संदिग्ध है, जिसकी जांच चल रही है।

एनआइए की छापेमारी में जब्त सामान : - आम्रपाली व मगध एरिया कमेटी को भुगतान की गई राशि से संबंधित दस्तावेज।- बैंक खाता, फिक्स डिपोजिट का ब्योरा, रंगदारी की राशि का ब्योरा, कंप्यूटर, हार्ड डिस्क, मोबाइल जिनमें कंपनियों के खाते जुड़े हैं।- डायरी जिसमें यह जिक्र है कि टीपीसी व पीएलएफआइ को 68 लाख रुपये नकद, दस हजार सिंगापुर डॉलर व 1300 यूएस डॉलर का भुगतान किया गया है। -पुराने नोट 86 हजार रुपये।

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस