रांची, जागरण संवाददाता। राज्य में बिजली की बदहाल व्यवस्था पर झारखंड चैंबर ऑफ कॉमर्स और जेसिया (झारखंड स्मॉल इंडस्ट्रीज एसोसिएशन) आर-पार के मूड में है। शुक्रवार को चैंबर अध्यक्ष दीपक मारू ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में इसके संकेत दिए। चैंबर अध्यक्ष ने कहा कि क्वालिटी बिजली देना जेबीवीएनल के बूते में नहीं है। बिजली को निजी हाथों में सौंपना चाहिए।

उन्होंने बताया कि तीन महीने पहले सीएम और डेढ़ महीने पहले सचिव से बिजली के मुद्दे पर वार्ता हुई थी। आश्वासन दिया गया था। लेकिन स्थिति अब भी वैसी की वैसी ही है। इसके विरोध में चैंबर राज्यभर में आंदोलन करेगा। कब से इसकी शुरुआत होगी योजना बनायी जा रही है। गुमला से इसकी शुरुआत होगी।

बिजली पर महेश पोद्दार का ट्वीट

इधर जेबीवीएनएल द्वारा बुधवार को इंडस्ट्रीयल एरिया में सप्लाई की जा रही बिजली पर जारी रिपोर्ट को लेकर सांसद महेश पोद्दार ने ट्वीट करते हुए कहा, अगर बिजली नहीं दे पा रहे हैं तो तथ्यों को तोड़ना-मरोड़ना सही नहीं। सत्य ये है कि स्थिति ठीक नहीं, सुधार जरूरी है। एक और ट्वीट में उन्होंने कहा कि टाटीसिलवे में आपूर्ति की स्थिति पर मुझे बताया गया है कि दिए गए आंकडे सही नहीं।

2 से 4 घंटे का पावर कट जेबीवीएनएल सामान्य मान सकता है पर इसी में उद्योगों का नफा साफ हो जाता है। इस ट्वीट के कुछ देर बाद एक और ट्वीट कर सांसद पोद्दार ने कहा 24 घंटे बिजली देने के लिए सरकार वचनबद्ध है और देगी। औद्योगिक क्षेत्रों में 5 प्रतिशत घटी बिजली की खपत जेसिया अध्यक्ष एस के अग्रवाल ने कहा, उद्योग की स्थिति बिजली को लेकर काफी खराब है।
शुक्रवार को मेसरा में सुबह 10 से 12 बजे बिजली गुल थी। इसके बाद दोपहर 2 बजे फिर बिजली कट गई। जेसिया सचिव अंजय पचेरीवाला ने कहा, 2016 से 2017 में कुल बिजली का 30 फीसद उपभोग औद्योगिक क्षेत्रों द्वारा किया गया। जबकि 2018-19 में यह 5 प्रतिशत घट कर 25 प्रतिशत हो गई।

औद्योगिक क्षेत्रों में दी जा रही है निर्बाध गुणवत्तापूर्ण बिजली

इधर विद्युत निगम ने शुक्रवार को बताया कि रांची अंतर्गत तुपुदाना, कोकर, नामकुम और टाटीसिलवे इंडस्ट्रीयल एरिया में बिजली दुरुस्त करने का काम किया गया है। वहां निर्बाध गुणवत्तापूर्ण बिजली दी जा रही है। निगम ने रिपोर्ट जारी कर बताया कि तुपुदाना इंडस्ट्रीयल एरिया में 33 केवी फीडर से औसतन 24 और 11केवी फीडर से 23 घंटे बिजली दी जा रही है।

इसी तरह कोकर इंडस्ट्रीयल क्षेत्र में 33केवी से 24 और 11 केवी से 24 घंटे, नामकुम क्षेत्र में 33 केवी और 11 केवी से 24 घंटे बिजली दी जा रही है। इसके अलावा टाटीसिलवे औद्योगिक क्षेत्र में 33 केवी से 23 एवं 11 केवी से 23 घंटे बिजली दी जा रही है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप