चतरा, [अलख कुमार सिंह]। मैट्रिक परीक्षा का जिला टॉपर अमित कुमार गुदड़ी का लाल है। उसने वाकई धमाल मचा दिया। अंदाजा इस बात से लगा सकते हैं कि जिस स्कूल में मां रेणु देवी सफाईकर्मी है, बेटा वहीं से झारखंड बोर्ड परीक्षा 2020 में जिला का टॉपर बना है। उसके इस प्रदर्शन से न सिर्फ उनके माता-पिता व परिजन, बल्कि पूरा विद्यालय परिवार गौरवान्वित हैं।

अमित के पिता रंजीत साव ढेला पर सत्तू और चना बेचते हैं। स्थानीय नगवा मोहल्ला निवासी रंजीत साव व रेणु देवी के पुत्र अमित मेधावी छात्र है। पढ़ाई के प्रति उसका समर्पण देखते ही बनता है। प्रारंभिक शिक्षा लोहरदगा में नानी के घर रह कर की। उसके बाद वापस यहां आ गया। माता और पिता के पास इतना पैसा नहीं था कि वह उसे किसी स्कूल का फीस भर पाते।

मां ने अपनी व्यथा इंदुमती टिबड़ेवाल सरस्वती विद्या मंदिर के तत्कालीन सचिव मुकेश साह को सुनाई। मुकेश साह ने तुरंत ही बगैर कोई फीस का पांचवीं क्लास में उसका नामांकन कराया। 2014 में उसका नामांकन हुआ। स्कूल प्रबंधन समिति प्रारंभ से लेकर अब तक उससे किसी भी प्रकार का कोई फी नहीं लिया। इंदुमती टिबड़ेवाल स्कूल के प्राचार्य पवन कुमार दास कहते हैं कि अमित मेधावी छात्र है।

उसकी प्रतिभा का हर कोई कायल है। उसके इस प्रदर्शन से पूरा विद्यालय परिवार गौरवान्वित है। अमित घर का बड़ा लड़का है। उसके दो छोटी बहन है। दैनिक जागरण से बातचीत के क्रम में अमित हैं कि इंसान को हमेशा आशावादी होना चाहिए।

निराश व्यक्ति कुछ भी नहीं कर सकता है। इंसान का काम मेहनत करना है। मेहनत के अनुरूप फल मिलता है। अमित का लक्ष्य यूपीएससी है। कहते हैं भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी बन कर देश और समाज का सेवा करूंगा। मां रेणु देवी कहती है कि बेटी की सफलता ने शिक्षा की महत्व को एहसास करा दिया। कहतीं है कि बेटा इसी तरह बुलंदियों को छुते रहे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021