गढ़वा, जागरण संवाददाता। Murder in Garhwa गढ़वा जिले के श्री बंशीधर नगर थाना क्षेत्र के गरबांध टोला ब्रह्मणी निवासी 50 वर्षीय नेपाली भुइयां की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। गांव के तीन लोगों ने नेपाली भुइयां के घर में घुसकर इस घटना को अंजाम दिया। घटना मंगलवार देर रात की है। इस घटना के बाद मृतक के परिवार में कोहराम मच गया। दशहरा का उत्सव मातम में बदल गया है।

पुलिस ने तीन आरोपितों को भेजा जेल

सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची। मामले की छानबीन की। मृतक की पत्नी इंद्री देवी के लिखित आवेदन पर पुलिस ने गांव के ही प्रेम भुइयां, मनोहर भुइयां व प्रदीप भुइयां के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली है। प्रेम भुइयां व मनोहर भुइयां दोनों भाई हैं। इनके पिता का नाम दशरथ भुइयां हैं। वहीं प्रदीप भुइयां के पिता का नाम प्रभु भुइयां हैं। पुलिस के अनुसार तीनों ब्रह्मणी गरबांध टोला के निवासी हैं। इनके खिलाफ भारतीय दंड विधान की धारा 302/34 के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने तीनों को आरोपितो को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार, तीनों हत्यारोपितों को बुधवार को न्यायिक हिरासत में गढ़वा जेल भेज दिया गया है।

शराब पीने के बाद चारों में हुआ झगड़ा

जानकारी के अनुसार, मंगलवार की शाम में प्रेम भुइयां, मनोहर भुइयां व प्रदीप भुइयां के साथ नेपाली भुइयां ने भी शराब का सेवन किया। सबकुछ ठीक था, लेकिन अचानक किसी बात को लेकर चारों आपस में लड़ने लगे। नशे की हालत में इनकी लड़ाई देखकर किसी ने हस्तक्षेप नहीं किया। इसी दौरान शराब के नशे में धुत प्रेम भुइयां, मनोहर भुइयां व प्रदीप भुइयां ने नेपाली भुइयां को उसके ही घर में पीट-पीटकर मार डाला। नेपाली भुइयां की मौत के बाद विजयादशमी का त्यौहार मातम में बदल गया। सूचना के बाद पुलिस जब मौके पर पहुंची तो शव को कब्जे में लेकर सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। बाद में शव स्वजन को सौंप दिया गया। परिवार के लोग भी हत्या का मूल कारण शराब का सेवन ही बता रहे हैं।

Edited By: M Ekhlaque

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट