रांची, जेएनएन। बुधवार शाम से लगातार हो रही बारिश के कारण राजधानी रांची में जनजीवन प्रभावित हुआ है। कुछ जगहों पर पेड़ गिरने से आवागमन प्रभावित हुआ है। चुटिया सहित अन्‍य इलाकों में पेड़ बीच सड़क पर गिरने से राहगीरों को परेशानी हो रही है। वहीं बिजली के तार पर पेड़ गिरने से बिजली की व्‍यवस्‍था सुबह से ही चरमराई हुई है। रांची के कोकर, कांके, एचईसी और कड़रू सहित अन्‍य इलाकों में बिजली आपूर्ति बाधित है।

गुरुवार और शुक्रवार को रांची सहित राज्य के कई हिस्सों में बारिश

मौसम विभाग की मानें तो गुरुवार और शुक्रवार को रांची सहित राज्य के कई हिस्सों में गर्जन व वज्रपात की संभावना है। रांची सहित पश्चिमी, मध्य,उत्तरी-पूर्वी तथा उत्तरी जिलों में एक-दो स्थानों पर भारी से अति भारी वर्षा की संभावना है। मौसम पूर्वानुमान के मुताबिक दिवाली के दिन मौसम मेहरबान रह सकता है। आसमान में बादल रहेंगे, लेकिन बारिश की संभावना नहीं है। 28 व 29 अक्टूबर को मौसम के मिजाज में बदलाव हो सकता है। 

बारिश से बढ़ेगी ठंड

मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि बारिश की वजह से पारा नीचे गिरेगा। यह बारिश ठंड बढ़ाने वाली है। दीपावली के बाद ठंड बढ़ जाएगी। इधर, अधिकतम तापमान सामान्य से दो डिग्री नीचे गिरा है। जबकि न्यूनतम तापमान 19.6 डिग्री रहा। बुधवार को रांची का अधिकतम तापमान 26.6 डिग्री व न्यूनतम तापमान 19.6 डिग्री सेल्सियस रहा। जमशेदपुर में 9 मिलीमीटर बारिश हुई।

शाम से ही होती रही बारिश, बाजार से गायब खरीदार

रांची सहित आसपास के इलाकों में बुधवार को दिन में हल्की धूप खिली। लेकिन शाम में बादलों ने डेरा जमाना शुरू किया। रात 9.30 बजे के आसपास बारिश शुरू हो गई जो देर रात तक जारी रही। दिवाली के पहले हो रही इस बारिश से बाजार और दुकानदार निराश हुए।

Posted By: Alok Shahi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस