रांची, राज्य ब्यूरो। आसन्न विधानसभा चुनाव को केंद्र में रखकर वोटरों को लुभाने के लिए राजनीतिक दल कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहे। चाहे वह सत्ता पक्ष हो अथवा विपक्ष, घोषणाओं की बौछार हो रही है। इसी कड़ी में, सोमवार को राज्य के प्रथम मुख्यमंत्री व झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) के प्रमुख बाबूलाल मरांडी ने अपने ही नाम से मुफ्त लैपटॉप योजना की लांचिंग तक कर डाली।

उन्होंने एक नंबर (9773681682) भी जारी किया। साफ-साफ कहा कि इस नंबर पर डायल करते ही दसवीं उत्तीर्ण छात्र-छात्राओं का निबंधन हो जाएगा। निबंधन की अंतिम तिथि 31 अक्टूबर तक मुकर्रर की गई है। उन्होंने दावा किया कि सरकार उन्हीं की बनेगी और इसके बाद निबंधित छात्रों को इस योजना का लाभ मिलेगा। वे सोमवार को मीडिया से मुखातिब थे। मरांडी ने कहा कि 'बाबूलाल मुफ्त लैपटॉप योजना' पूरे देश के लिए मॉडल बन सकता है।

यह एक ऐसा अभिनव प्रयोग है, जो तकनीक आधारित शिक्षा को बढ़ावा देगा। मुख्यमंत्री रहते हुए उन्होंने टोलों-मोहल्लों में स्कूल खुलवाए थे। झारखंड शिक्षित होगा तो राज्य की तस्वीर बदलेगी। इस लैपटॉप में प्रतियोगिता परीक्षा से संबद्ध सभी आवश्यक सामग्री होगी, जिसे अलग से डाउनलोड करने की जरूरत नहीं होगी।

इतना ही नहीं, सरकार बनने पर गरीब परिवार से आने वाले बच्चों के लिए निजी स्कूलों में भी 25 फीसद सीटें आरक्षित रहेंगी। बेटियों को अपने खर्च पर सरकार पढ़ाएगी। टेट (शिक्षक पात्रता परीक्षा) उत्तीर्ण पारा शिक्षकों की बहाली रिक्त पदों पर की जाएगी, वेतन में सम्मानजनक बढ़ोतरी होगी। महागठबंधन के मसले पर उन्होंने चुप्पी साध ली, बस इतना ही कहा- समय आने पर इसका खुलासा किया जाएगा।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप