जागरण संवाददाता, रांची : मंगलवार को जिला परिषद की बैठक में जिप सदस्यों ने पंचायतों में हो रहे अवैध खनन, अवैध रूप से चल रहे क्रशर प्लांट व लाल कार्ड में बिचौलियों के खेल के मुद्दे उठाए। जिप सदस्यों ने डीडीसी अनन्य मित्तल से इन मामलों पर कार्रवाई करने की मांग की।

सिल्ली जिप सदस्य ने बताया कि सीओ गांव वालों को धमकाते हैं। ग्रामीणों से कहते हैं, आवाज मत उठाओ। उन्होंने डीडीसी अनन्य मित्तल से कहा कि खनन का कार्य ग्राम सभा से पारित हुआ है या नहीं या फिर किसी के दबाव में यह कार्य किया जा रहा है, इसकी जांच की जानी चाहिए। यदि ग्राम सभा गलत करती है तो उनपर भी कार्रवाई होनी चाहिए। जब लाइसेंस नहीं मिला तो पत्थर तोड़ने या क्रशर स्थापित करने का काम कैसे शुरू हो गया।

जिप सदस्य आरती कुजूर ने कहा कि नामकुम में अवैध क्रशर के कारण लाह की खेती प्रभावित हो रही है। राय पंचायत की जिप सदस्य ने बताया कि छपर घाट कोलियरी में कोयले का अवैध खनन हो रहा है। खनन विभाग के अधिकारी ने बताया कि इस संबंध में संबंधित कोलियरी के अधिकारी से बात करनी होगी।

मांडर जिप सदस्य सुनील उरांव ने बताया कि अवैध रूप से पत्थर खनन करने वालों के खिलाफ आवाज उठाने पर धमकी दी जाती है। शिकायत करने के बाद भी संबंधित थाना की ओर से कोई कार्रवाई नहीं की जाती है। ॉ

बैठक में ग्रामीण हाट बाजारों की बंदोबस्ती पर जिप सदस्यों ने कहा कि इसमें स्थानीय लोगों खासकर महिलाओं को प्राथमिकता मिलनी चाहिए। ग्राम सभा के माध्यम से समूह का सत्यापन लड़ाई का घर बन जाएगा। डीडीसी ने कहा कि हाट बाजारों की बंदोबस्ती में मुख्यत: तीन बिंदुओं पर प्राथमिकता दी जा रही है। पहला स्थानीय लोगों को प्राथमिकता मिले। दूसरा, काम का लेवल नहीं गिरने देना है और तीसरा, बंदोबस्ती से प्राप्त होने वाले रिवेन्यू को भी देखना है। हाट बाजारों की बंदोबस्ती के तहत ओपन डाक में स्थानीय व्यक्ति 80 फीसद तक भी क्वालिफाई करेंगे तो उन्हें पहली प्राथमिकता दी जाएगी। हालांकि जिप सदस्यों ने कहा कि लाभुक समिति का गठन हाट बाजार की बंदोबस्ती का काम एकमुश्त राशि लेकर किया जाए।

इस अवसर पर जिप अध्यक्ष सुकरा सिंह मुंडा, उपाध्यक्ष पार्वती देवी, कांके विधायक समरी लाल, खिजरी विधायक राजेश कच्छप समेत विभिन्न विभागों के कई अधिकारी उपस्थित थे।

:::::::::::::

धान क्रय केंद्र पर किसानों को हो रहा घाटा

जिप सदस्य ने बताया कि राहे स्थित धान क्रय केंद्र पर 20 क्विंटल धान पर एक क्विंटल धान काट दिया जाता है। इसके अलावा किसानों को सही समय पर अनाज का मूल्य नहीं रहा है। लापुंग पंचायत के जिप सदस्य ने धान कटौती की शिकायत की। आपूर्ति विभाग के अधिकारी ने बताया कि अब तक किसी किसान को धान क्रय का पैसा नहीं दिया गया है। लतरातू व देवगम पंचायत में 20 किमी. दूर धान क्रय केंद्र खोला गया है। इसके कारण वे अपना धान बिचौलिए को औने-पौने कीमत पर बेच रहे हैं। ककरिया पंचायत में लैम्पस भी है, जिसके कारण वहां धान क्रय केंद्र खोला जा सकता है।

::::::::

लाल कार्ड बनवाने में बिचौलिए हावी, योग्य व्यक्तियों को नहीं मिल रहा लाभ

जिप सदस्यों ने डीडीसी से कहा कि लाल कार्ड बनाने में बिचौलिए हावी हैं। योग्य लोगों का नाम विभाग की सूची में नहीं जोड़ा जा रहा है, जबकि बिचौलिए अयोग्य लोगों का नाम जुड़वाने में हावी हैं। आपूर्ति विभाग के अधिकारी ने बताया कि फिलहाल लक्ष्य पूरा हो चुका है। दो तीन दिनों में स्क्रूटनी का काम पूरा होने के बाद कुछ लोगों के नाम हटाए जाएंगे। उसके बाद सूची में नए नाम जोड़े जाएंगे। मांडर जिप सदस्य सुनील उरांव ने बताया कि योग्य व्यक्तियों को लाल कार्ड की सुविधा नहीं मिल रही है।

::::::::::

बैठक में पारित प्रस्ताव

- जिला परिषद स्तर पर गठित होगी जैव विविधता प्रबंधन समिति।

- नवनिर्मित मार्केट कॉम्पलेक्स व अन्य परिसंपत्तियों के उचित रखरखाव के लिए अनुबंध पर रखे जाएंगे कर्मी।

- एक लिपिक व दो कंप्यूटर ऑपरेटर को लिपिक पद पर सेवा समायोजन के लिए डीडीसी नियमावली के आधार पर लेंगे अंतिम निर्णय।

- प्रत्येक पंचायत में ज्रेडा के माध्यम से लगाए जाएंगे 6-6 स्ट्रीट लाइट।

- पंचायतों में किए गए बोरिग कार्य का सत्यापन करेंगे जिप सदस्य, उसके बाद ही संबंधित ठेकेदार को होगा भुगतान।

::::::::::

-बैठक में सदस्यों ने अपनी-अपनी समस्याओं को प्रमुखता से डीडीसी के समक्ष रखा। पदाधिकारियों ने कई सरकारी योजनाओं की जानकारी भी दी गई। ग्रामीण क्षेत्र की समस्याओं पर सरकार का ध्यान आकृष्ट होगा तो काफी सुधार होगा।

- सुकरा सिंह मुंडा, जिप अध्यक्ष, रांची।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस