मांडू (रामगढ़), जासं। रामगढ़ जिले के मांडू थाना क्षेत्र अंतर्गत एक गांव में रविवार की देर शाम विधवा के साथ दुष्कर्म की घटना के बाद दो समाज के लोगों के बीच तनाव कायम हो गया है। महतो एवं गंझू समाज के लोग आमने-सामने आ गए हैं। इस दौरान पत्थरबाजी की घटना भी हुई। मामले की सूचना मिलते ही रामगढ़ एसडीपीओ अनुज उरांव मांडू, कुजू और घाटो ओपी के प्रभारियों की टीम को साथ लेकर घटनास्थल पहुंचे।

एसडीपीओ ने आरोपित व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई किए जाने का भरोसा दिलाकर सोमवार को मामले को शांत कराया। जानकारी के अनुसार ग्रामीणों ने एक विधवा को गरगाली निवासी मुंशी महतो नामक युवक के साथ आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ा था। देखते ही देखते ग्रामीणों के बीच विवाद बढ़ गया और लोग आपस में उलझ गए। इस बीच दोनों पक्षों के बीच पत्थरबाजी की घटना हुई।

इसमें कई लोगों को चोट आई है। परंतु पुलिसिया कार्रवाई से बचने के लिए लोग अपने घरों में ही दुबक गए। घटना के बाद पुलिस ने पीडि़त महिला की मेडिकल जांच कराने के लिए सोमवार को सदर अस्पताल रामगढ़ भेज दिया। आरोपित के खिलाफ पीडि़त महिला ने सोमवार को मांडू थाना में आवेदन देकर गरगाली निवासी मुंशी महतो द्वारा दुष्कर्म करने का आरोप लगाया है।

मांडू थाना पुलिस को बताया कि रविवार की शाम करीब सात बजे वह मांडू से काम कर वापस अपना घर लौट रही थी। तभी गरगाली सरकारी स्कूल के पास बाइक चलाते हुए मुंशी महतो उसके पास आकर रुक गया। कहा कि वह भी उसका जा रहा है। आओ घर छोड़ दूंगा। महिला ने पुलिस को बताया कि वह उसकी बाइक में नहीं बैठना चाहती थी।

लेकिन उसने जबरन बाइक में बैठा लिया और बरखुटा टांड़ पगडंडी होते हुए जंगल के अंदर की ओर ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। शोर मचाने पर कुछ ग्रामीणों को उसकी ओर आता देख वह अपनी बाइक और मोबाइल वहीं छोड़ कर फरार हो गया। मामले को गंभीरता से लेते हुए मांडू थाने में आरोपित के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस