रांची, जागरण संवाददाता। Jharkhand Crime News : नवजात बच्ची को ट्रैफिकिंग (Trafficking Of Newborn Baby) कर रांची (Ranchi) से मुंबई (Mumbai) ले रही एक महिला को बिरसा मुंडा एयरपोर्ट (Birsa Munda Airport) से गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार में आयी महिला निखत परवीन (Nikhat Parveen) है। वो गिरिडीह (Giridih) की रहने वाली है और मुंबई में रहती थी। निखत 13 जनवरी को दोपहर एक बजे इंडिगो (Indigo) की विमान से रांची से दिल्ली जा रही थी। उसके टिकट (Ticket) में बच्ची का जिक्र नहीं था। इस कारण एयरपोर्ट (Airport) के गेट पर सुरक्षा में तैनात सीआइएसएफ जवानों (CISF Jawans) ने रोक लिया।

महिला गिरफ्तार, एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग युनिट के हवाले

रोकने के बाद महिला इंडिगो के काउंटर पर जाकर बच्ची का नाम जोड़ने का दबाव डाल रही थी। इंडिगो के स्टाफ को महिला पर कुछ शक हुआ। तत्काल इसकी सूचना एयरपोर्ट आथॉरिटी को दी गई। बाद में एयरपोर्ट थाना पुलिस मौके पर पहुंची। छानबीन के उपरांत महिला को गिरफ्तार कर कोतवाली थाना स्थित एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग युनिट के हवाले कर दिया गया।

छानबीन में महिला के कारनामे का हुआ खुलासा

जानकारी के अनुसार निखत परवीन 11 जनवरी को विमान से ही मुंबई से रांची आयी थी। उस समय उसके पास कोई बच्चा नहीं था। एयरपोर्ट ऑथोरिटी ने जब छानबीन की तो इसकी जानकारी मिली। जब यह बात निखत से पूछा गया तो वो कोई जवाब नहीं दे पायी। साथ ही, बच्ची की उम्र और नाम भी ठीक से नहीं बता पा रही थी। पुलिस पूछताछ में निखत ने चौकाने वाले खुलासे किए।

मुंहमांगी कीमत पर बेचने वाली थी

जानकारी के अनुसार निखत उक्त बच्ची को सोनाहातु के एक दंपत्ति से 22 हजार रुपये में खरीदकर मुंबई ले जाकर मुंहमांगी कीमत पर बेचने वाली थी।

12 जनवरी को फ्लाइट का कटाया गया था ऑनलाइन टिकट

पुलिस के अनुसार निखत ने रांची से मुंबई के लिए ऑनलाइन टिकट कटवाया था। जो टिकट बनवाया था उसमें बच्ची का कोई जिक्र नहीं था। इससे एयरपोर्ट ऑथोरिटी का शक और बढ़ गया। यह भी पता चला है कि जब निखत बच्ची का नाम जोड़ने के लिए दबाव डाल रही थी तो कर्मियों ने जन्म प्रमाण पत्र मांगा।हालांकि, निखत ने बच्ची का जन्म प्रमाण पत्र भी नहीं दिखाया।

Edited By: Sanjay Kumar