रांची, राज्‍य ब्‍यूरो। Jharkhand Lockdown AGAIN: झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने राज्‍य में लॉकडाउन की पाबंदियां लागू कर दी हैं। जनता के नाम जारी संदेश में सीएम ने कहा कि सभी परीक्षाएं अगले आदेश तक स्थगित कर दी गई हैं। राज्‍य में सभी स्कूल, कालेज, कोचिंग, ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट, आइटीआइ संस्थान, आंगनबाड़ी केंद्र बंद अगले आदेश तक बंद रहेंगे। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने मंत्रियों संग बैठक करने के बाद राज्य के लोगों के नाम संदेश जारी किया है।

सीएम ने ट्विटर पर जारी संदेश में कहा- राज्य में बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए कुछ निर्णय लिए गए हैं। जरूरत पड़ने पर आगे और कदम उठाये जायेंगे। लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा पहुंचायी जा सके इसके लिए भी उचित कदम उठाये जा रहे हैं। सभी लोगों से अपील है कोरोना की इस विकट घड़ी में आप सभी सतर्क रहें, सुरक्षित रहें।

सीएम हेमंत सोरेन ने लिए बड़े फैसले

  •  स्कूल, कालेज, कोचिंग, ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट, आइटीआइ संस्थान, आंगनबाड़ी केंद्र बंद होंगे।
  • शादी समारोह में अधिकतम 50 लोग मौजूद रह पाएंगे।
  • सभी परीक्षाएं अगले आदेश तक स्थगित।
  • बेवजह घर से बाहर नहीं निकलें।
  • एक माह बाद परिस्थितियों की समीक्षा करेंगे मुख्यमंत्री, आवश्यकता पड़ी तो और कड़े निर्णय लिए जाएंगे।

सीएम हेमंत ने रविवार को जारी किए गए वीडियो संदेश में कहा कि सरकार ने पक्ष-विपक्ष के राजनीतिक दलों से बात करने के बाद प्राथमिक स्‍तर पर कई निर्णय लिए हैं। राज्‍य में कोरोना वायरस संक्रमण से बेकाबू हो रहे हालात को संभालने के लिए तत्‍काल प्रभाव से आने वाले दिनों में होने वाली तमाम परीक्षाएं रद कर दी गई हैं। मौजूदा हालात को ध्यान में रखकर सभी स्कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटर, आइटीआइ और दूसरे ट्रेनिंग सेंटरों को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। आंगनबाड़ी केंद्रों को भी बंद कर दिया गया है।

सीएम ने कहा कि राज्‍य में कोरोना संक्रमण से बिगड़ रहे हालात को देखते हुए स्कूल- कॉलेज के एंट्रेंस, संस्थागत परीक्षाएं समेत तमाम परीक्षाओं को अगले आदेश तक रद किया जा रहा है। कोरोना संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए आप सब अपने घर में ही रहें। घरों से बेवजह बाहर न निकलें। शारीरिक दूरी बनाकर रहें। चेहरे पर हमेशा मास्‍क लगाएं। नौजवान थोड़े दिनों के लिए अपनी मौज-मस्‍ती बंद करें। सीएम ने कहा कि शादी-विवाह में 200 लोगों को शामिल होने की अनुमति पर राेक लगा दी गई है। अब अधिकतम 50 लोगों को ही शादी समारोह में शामिल होने का आदेश दिया गया है।

सीएम ने कहा कि झारखंड में जिस तेजी से कोरोना संक्रमण बढ़ रहा है, उससे यह कह पाना मुश्किल है कि इस पर कबतक ब्रेक लगेगा। इस बार का संक्रमण पहले से भी अधिक घातक है। हम अभी कोरोना संक्रमण की रफ्तार में रुकावट नहीं ला पाते हैं, तो आगे चीजाें का संभालना बहुत मुश्किल होगा। उन्‍होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए सरकार पूरी मजबूती से काम कर रही है। एक महीने बाद कोरोना के हालाताें की समीक्षा कर सरकार आगे कोई फैसला करेगी। उन्‍होंने कहा कि विशेष परिस्थिति में हम और कड़े फैसले लेंगे। जनहित के मामलों पर जो भी जरूरी होगा किया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप