कोडरमा (संवाद सहयोगी)। स्टेशन पर ट्रेन का ठहराव नहीं, फिर भी स्टेशन के बुकिंग काउंटर से रेलवे ऐसी ट्रेनों की बोर्डिंग दिखाकर टिकट जारी की जा रही है। कोरोना संक्रमण की वजह से ट्रेनों का परिचालन सामान्य नहीं हो पाया है और फिलहाल कोडरमा स्टेशन पर सिर्फ 3 जोड़ी ट्रेनों, परुषोत्तम एक्सप्रेस, शिप्रा एक्सप्रेस और लुधियाना एक्सप्रेस के ठहराव की अनुमति है। बावजूद इसके जो ट्रेन कोडरमा स्टेशन पर रूकती भी नहीं है, उसकी टिकट भी कोडरमा स्टेशन के बुकिंग काउंटर से की जा रही है।

दरअसल, झुमरीतिलैया गौशाला रोड के रहने वाले अमरजीत कुमार को 21 सितंबर को कोडरमा से मुगलसराय जाना था। इस बाबत अमरजीत कुमार ने 19 सितंबर को कोडरमा स्टेशन के बुकिंग काउंटर की खिड़की नंबर 2 से कोडरमा से डीडीयू (मुगलसराय) जाने के लिए टिकट बुक कराया और वह टिकट हावड़ा जोधपुर एक्सप्रेस के लिए जारी की गई। 

बुकिंग खिड़की से टिकट पीएनआर संख्या 6542 741429 में द्वितीय श्रेणी में अमरजीत कुमार और उनके साथ उनके दो परिजन समेत तीन लोगों के लिए टिकट जारी की गई थी। बुकिंग काउंटर से टिकट जारी होते वक्त टिकट वेटिंग लिस्ट में थी जो 20 तारीख की रात कंफर्म हो गई और 21 सितंबर को अहले सुबह जब अमरजीत कुमार, निर्मला देवी और रेखा देवी ट्रेन में सवार होने के लिए कोडरमा स्टेशन पहुंचे तो बगैर कोडरमा स्टेशन पर रुके हावड़ा जोधपुर एक्सप्रेस इन तीन यात्रियों के सामने से गुजर गई ।

इस तरह आरक्षण टिकट लेने के बावजूद तीनों यात्री खड़े रह गए। जब ट्रेन गुजर गई तो अमरजीत कुमार ने बुकिंग काउंटर और रेलवे के अधिकारियों से संपर्क किया तो मालूम चला कि हावड़ा जोधपुर एक्सप्रेस का ठहराव फिलहाल कोडरमा में नहीं हो रहा है। इस बाबत रेल अधिकारियों के द्वारा ना तो अमरजीत कुमार को रिफंड का पैसा वापस किया गया और ना ही उन्हें किसी तरह की सटीक जानकारी मिल पाई।

अमरजीत कुमार ने बताया कि जब ट्रेन का कोडरमा स्टेशन पर ठहराव ही नहीं है? तो कोडरमा से मुगलसराय जाने के लिए उक्त ट्रेन में जाने के लिए उनका रिजर्वेशन कैसे किया गया? और कैसे उन्हें काउंटर से टिकट उपलब्ध कराया गया? इसमें रेलवे की घोर लापरवाही है, जिसका खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ रहा है। कोडरमा स्टेशन के बुकिंग काउंटर से रिफंड का पैसा वापस लेने गए अमरजीत कुमार की टिकट पर टिकट कंफर्म होने की सूरत में रिफंड नहीं देने की बात लिखी गई।

बाद में अमरजीत कुमार ने धनबाद रेल मंडल के वरीय अधिकारियों से संपर्क किया तो उन्हें बगैर रुपया रिफंड के वापस किए 2801 अप पूरी नई दिल्ली पुरुषोत्तम एक्सप्रेस में बिठाकर डीडीयू (मुगलसराय) के लिए रवाना किया गया।धनबाद रेल मंडल के सीनियर डीसीएम अखिलेश पांडे के द्वारा समझाएं बुझाए जाने पर अमरजीत कुमार पुरुषोत्तम एक्सप्रेस से मुगलसराय जाने के लिए तैयार हुए।

उन्होंने कहा कि यह भारतीय रेल की बहुत बड़ी चूक है, जिसके कारण उन्हें काफी परेशानी हुई है। उन्होंने कहा कि इसकी लिखित शिकायत वे दर्ज कराएंगे। इस संबंध में पूछे जाने पर स्टेशन प्रबंधक एमके सिंह ने कहा कि यह एक तकनीकी खामी थी जिसके कारण बगैर स्टॉपेज वाली ट्रेन में कोडरमा से टिकट जारी किया गया। मामला सामने आने के बाद इस खामी को दूर कर लिया गया है।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप