जलडेगा (सिमडेगा), जासं। झारखंड के सिमडेगा जिले से बड़ी खबर है। जिले के जलडेगा थाना क्षेत्र के लोम्बोई पंचायत अंतर्गत करमापानी निवासी जगदीश गंगेश्वर ने अपनी पत्नी बासमती देवी (30) की पीटकर हत्या कर दी। इतना ही नही, हत्या के बाद पत्नी के शव को भी छुपा दिया। थाना प्रभारी फिलिप मिंज ने बताया कि अभियुक्त ने गत शुक्रवार को दिन में अपनी पत्नी की हत्या कर ससुराल वालों को सूचित किया कि बासमती देवी की हत्या कर दी गई है। इसके बाद महिला के पिता शहरु साय टिंनगिना इंदटोली निवासी ने दामाद के घर जाकर देखा। वहां उनकी बेटी मृत पड़ी थी और मृतका के चेहरे पर चोट के निशान थे।

तब उन्हें संदेश हुआ। इसके बाद मृतका के पिता शहरू साय अपने गांव वालों को सूचना देने गए। उसके जाने के बाद उनके दामाद जगदीश गंगेश्वर ने साक्ष्य छुपाने की नीयत से शव को अपने घर से 5 किमी दूर तेलाजंजी नदी किनारे बालू में दफन कर दिया। जब मृतका के पिता पुनः अपने गांव वालों के साथ दामाद के घर पहुंचे, तब बेटी का शव घर से गायब पाया। इसके बाद मृतका के पिता ने गांव के बुद्धिजीवियों के समझाने के बाद सोमवार को जलडेगा थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई।

मामला दर्ज होते ही पुलिस हरकत में आई और आरोपी की तलाश में जुट गई। इसी कड़ी में पता चला कि अभियुक्त करमापानी गिरजाटोली स्थित एक आंगनबाड़ी केंद्र में गिरफ्तारी के डर से छि‍पा हुआ है। उक्त आंगनबाड़ी केंद्र से पुलिस ने आरोपी को सोमवार की रात गिरफ्तार किया और थाना ले आई। इसके बाद मंगलवार को अभियुक्त की निशानदेही पर मजिस्ट्रेट खगेन महतो एवं जलडेगा थाना प्रभारी की उपस्थिति में दफन किए गए शव को गड्ढे से निकाला गया।

पुलिस ने पंचनामा तैयार कर शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल सिमडेगा भेजा। थाना प्रभारी ने बताया कि आरोपी को धारा 302 हत्या करने एवं धारा 201 साक्ष्य छुपाने के तहत मामला दर्ज करते हुए जेल भेजा जा रहा है। थाना प्रभारी ने बताया कि मृतका बासमती देवी चार माह की गर्भवती थी। उसकी दो पुत्री होलिका कुमारी (5) एवं पूर्णिमा कुमारी (3) है।

Edited By: Sujeet Kumar Suman