रांची, जागरण संवाददाता। शहर के विद्युत ग्रिड से पावर सब स्टेशन को जाने वाली 33 केवी लाइन को अंडरग्राउंड किए जाने की योजना है। इसे लेकर विद्युत विभाग की सारी तैयारी पूरी हो चुकी है और कयास लगाए जा रहे हैं कि एक माह के अंदर ये कार्य शुरू हो जाएंगे। केईआई एजेंसी को इस कार्य का जिम्मा सौंपा गया है। जिसके बाद आपदा के समय भी बिजली तार गिरने या इससे होने वाले जानमाल के नुकसान की समस्या नहीं रहेगी।

200 किलाेमीटर 33 केवी तो 90 किमी 11 केवी के तार अंडरग्राउंड किए जाएंगे

शहर के अधिकांश जगहों पर 11 केवी व 33 केवी के बिजली तार यूं ही लटकते दिख जाते हैं। जिससे हरवक्त हादसे की आशंका बनी रहती है। लेकिन विद्युत आपूर्ति क्षेत्र रांची ने इसका समाधान निकाल लिया है। बता दें कि शहरी क्षेत्र में 200 किलाेमीटर 33 केवी तो 90 किमी 11 केवी के तार अंडरग्राउंड किए जाएंगे। जिसके बाद हाई वोल्टेज तार का गुच्छा सड़क किनारे या किसी मोहल्ले में दिखाई नहीं देगा।

रेलवे से भी मिल गई है अनुमति

बता दें कि ये परियोजनाएं रेलवे की अनुमति नहीं मिलने के कारण अधर में लटकी थी। जबकि केबल जोड़ने से लेकर इसे बिछाने के सारे संसाधनों की आपूर्ति तक हो चुकी है। बता दें कि रेलवे से एनओसी नहीं मिलने के कारण हटिया से अड़गोड़ा, हटिया से हरमु, हटिया से पुंदाग रेललाइन में कार्य नहीं हो पाने के कारण परियोजना ठंडे बस्ते में थी। एनओसी मिलने के बाद इसी माह से अंडरग्राउंड केबल बिछाने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। वहीं दूसरी ओर 440 एलटी लाइन के तार भी किसी खतरा से कम नहीं है। बिजली के ये तार शहरी क्षेत्र में जहां हादसे को न्योता दे रहे हैं वहीं दूसरी ओर शहर की खूबसूरती को बिगाड़ते भी हैं।

चौक चौराहे पर बिजली तार का गुच्छा देखने को मिल जाएगा

अमूमन हरेक चौक चौराहे पर बिजली तार का गुच्छा देखने को मिल जाएगा। लेकिन न तो इसे विद्युत विभाग दुरूस्त करता है और न ही इसे हटाने की कवायद ही करता है। बूटी मोड़ के विनोद प्रजापति, गौरव कुमार महतो, राकेश कुमार सिंह, ललित कुमार महतो ने बताया कि बूटी बस्ती को जाने वाली सड़क के ठीक किनारे बिजली का खंभा पिछले दो वर्षों से झुका है। इस पर लटकते तार किसी भी वक्त हादसे को न्योता दे सकते हैं। लोगों ने कहा कि कई बार शिकायत भी की लेकिन कार्रवाई के नाम पर कुछ भी नहीं हो रहा है।

जल्द शुरू होगी कवायद

शहरी क्षेत्र में 11 व 33 केवी के तार को अंडरग्राउंड करने की कार्ययोजना पूरी हो चुकी है। इसी माह से अंडरग्राउंड केबल बिछाने का कार्य शुरू कर दिया जाएगा। साथ ही 440 वोल्ट के एलटी लाइन को भी अंडरग्राउंड करने की योजना है। इस दिशा में जल्द कार्रवाई की जाएगी।

प्रभात कुमार श्रीवास्तव, महाप्रबंधक, विद्युत आपूर्ति क्षेत्र रांची।

Edited By: Madhukar Kumar