संसू, सिल्ली : सिल्ली स्टेडियम में 18 से 20 दिसंबर तक चलने वाले गूंज महोत्सव की तैयारी अंतिम चरण में है। महोत्सव के स्टेज को भव्य रूप दिया जा रहा है। स्टेज राजस्थान किले का प्रारूप होगा।

स्टेज 100 फीट लंबा एवं 40 फीट ऊंचा होगा। महोत्सव का पहला दिन महिलाओं को समर्पित होगा। वहीं, दूसरा दिन किसानों को एवं अंतिम दिन युवाओं को समर्पित रहेगा। महोत्सव में आकर्षक विद्युत सज्जा का काम जोरों से चल रहा है। रंगीन पताकों से पूरे क्षेत्र को पाट दिया गया है।

वहीं, मीना बाजार, झूले, ब्रेक डास एवं अन्य झूले एवं दुकानें लगनी लगी हैं। महोत्सव को लेकर लोगों में खासे उत्साह देखा जा रहा है।

मैरी कॉम करेंगी महोत्सव का उद्घाटन : गूंज महोत्सव का पहला दिन महिलाओं को समर्पित होगा। कार्यक्रम का उद्घाटन लंदन ओलंपिक में ब्रांज मेडल जीतनेवाली मुक्केबाज मैरी कॉम करेंगी। उनके आगमन की सूचना से यहां के लोगों में खुशी है। मैरी कॉम ने 2001 में प्रथम बार नेशनल वुमंस बॉक्सिंग चौंपियनशिप जीती। अब तक वह 10 राष्ट्रीय खिताब जीत चुकी हैं।

बॉक्सिंग में देश का नाम रोशन करने के लिए भारत सरकार ने 2003 में उन्हे अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित किया एवं 2006 में उन्हे पद्मश्री से सम्मानित किया गया। 2009 में उन्हें भारत के सर्वोच्च खेल सम्मान राजीव गांधी खेल रत्‍‌न पुरस्कार के लिए चुनी गई। मध्यप्रदेश के ग्वालियर में स्त्रीत्व को नई परिभाषा देकर अपने शौर्य बल से नए प्रतिमान गढ़ने वाली विश्व प्रसिद्ध मुक्केबाज एमसी मैरी कॉम 17 जून 2018 को वीरागना सम्मान से विभूषित किया गया।

समारोह में ये किए जाएंगे सम्मानित: महोत्सव के दौरान ग्राम प्रधान, कोषाध्यक्ष, कृषक मित्र, सेविका, सहायिका, जलसहिया, सहिया, रसोईया, संयोजिका, जिप सदस्य, मुखिया, वार्ड सदस्य, संस्कृतकर्मी, कलाकार, पूर्व शिक्षक, पूर्व सैनिक, पारा शिक्षक, ग्रामीण चिकित्सक, उत्कृष्ट खिलाड़ी, बीआरपी, सीआरपी, झारखंड आदोलनकारी, मैट्रिक इंटर टॉपर आदि को सम्मानित किया जाएगा।

गूंज महोत्सव में बुद्धिजीवी मंच भी निभाएगा भागीदारी : आजसू बुद्धिजीवी मंच के विधानसभा स्तरीय पदधारियो की बैठक रविवार को सिल्ली स्टेडियम में हुई। अध्यक्षता धीरेंद्र नाथ महतो ने की। तीनदिवसीय महोत्सव में बुद्धिजीवी मंच ने अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने पर चर्चा की।

साथ ही सेवानिवृत्त शिक्षक एवं मैट्रिक व इंटर टॉपर छात्र-छात्राओं के सम्मान समारोह में योगदान करने पर विचार-विमर्श किया गया। मौके पर प्रो. श्रीकात महतो, रतन लाल महतो, विजय महतो, लंबोदर महतो, भागवत सोनार, डॉ. शभुनाथ मुंडा, डॉ. भूतनाथ महतो, डॉ. बीके जायसवाल, अर्जुन चंद्र प्रसाद, गौर चंद्र महतो, सत्येंद्र प्रसाद सिंह, भादुड़ी गोराई, जनार्दन महतो, शिशिर कुमार सिंह, श्रीपद महली समेत कई लोग उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप