पलामू, जासं। पलामू जिला में मंगलवार की शाम बारिश के दौरान वज्रपात होने से दादा-पोता समेत चार लोगों की मौत हो गई। इसमें दो मजदूर महिलाएं भी शामिल हैं। एक महिला जख्मी है। उसे इलाज के लिए स्थानीय मेदिनी राय मेडिकल कालेज अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। जानकारी के अनुसार नीलांबर पीतांबरपुर प्रखंड के हरतुआ पंचायत के अमवा गांव में शाम करीब 6 बजे वज्रपात हो गया। इसमें 65 वर्षीय कर्मदेव मांझी व उनका 10 वर्षीय पोता राजन कुमार की मौत हो गई।

दोनों पास के किराना दुकान से आलू खरीद कर अपने घर लौट रहे थे। इसी बीच बारिश के साथ वज्रपात हो गया। इसमें इन दोनों की घटना स्थल पर ही मौत हो गई। इसके बावजूद आनन फानन में दोनों को इलाज के लिए एमआरएमसीएच लाया गया। यहां चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। कर्मदेव मांझी के पुत्र और मृतक राजन के पिता वीरेंद्र पासवान जिला पुलिस के जवान हैं। उनकी पोस्टिंग मेदिनीनगर सदर थाना में है।

इधर चैनपुर थाना क्षेत्र के गांगी गांव में नदी पार कर अपने घर लौट रहीं दो महिला मजदूर की वज्रपात से मौत हो गई। मृतकों की पहचान अमरेश चौधरी की पत्नी कुंती देवी व ललन चौधरी की पत्नी राधा देवी के रूप में की गई है। एक महिला मजदूर मनती देवी गंभीर रूप से जख्मी है। इनका इलाज एमआरएमसीएच में चल रहा है।

बताया जाता है कि तीनों महिलाएं गांगी गांव में अर्जुन मेहता के घर से मजदूरी कर घर लौट रही थी। घर पहुंचने के क्रम में एक नदी को पार कर रही थी। इधर घटना के बाद चारों शवों को एमआरएमसीएच में रखा गया है। शहर थाना टीओपी वन के पुलिस पदाधिकारी व जवान मौजूद हैं। संबंधित मृतक के स्वजनों का रो-रोकर बुरा हाल है।

Edited By: Sujeet Kumar Suman