रांची, राज्य ब्यूरो। Jharkhand Assembly Election 2019 - भारत निर्वाचन आयोग के विशेष पर्यवेक्षक (व्यय) बी मुरली कुमार ने सभी जिला निर्वाचन पदाधिकारियों सह उपायुक्तों को विधानसभा चुनाव में उम्मीदवारों द्वारा किए जाने वाले खर्च की निगरानी के लिए सभी आवश्यक व्यवस्था शीघ्र करने का निर्देश दिया है। दो दिवसीय दौरे पर रांची पहुंचे विशेष पर्यवेक्षक (व्यय) शुक्रवार को वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिलों में खर्च की निगरानी की तैयारियों का जायजा ले रहे थे।

वीडियो कान्फ्रेंसिंग में विशेष पर्यवेक्षक (व्यय) ने जिलों में चुनाव खर्च की मॉनिटरिंग को लेकर गई तैयारियों की जानकारी ली। कहा कि भारत निर्वाचन आयोग ने स्वतंत्र, स्वच्छ, पारदर्शी और शांतिपूर्ण मतदान सुनिश्चित करने के लिए खर्च की मानीटरिंग के लिए कई प्रावधान किए हैैं, जिनका सख्ती से अनुपालन होना चाहिए। बताया कि चुनाव के दौरान अवैधी नकदी, शराब और अन्य वस्तुओं की निगरानी उडऩदस्ता (एफएस) और स्थैतिक निगरानी दल (एसएसटी) द्वारा किया जाएगा।

इन दलों का शीघ्र गठन करने का निर्देश देते हुए कहा कि चेकनाका बनाकर वहां स्थैतिक निगरानी दल को प्रतिनियुक्त किया जाए। उडऩदस्ता और स्थैतिक निगरानी दल तीन किश्तों में काम करेगा। विशेष पर्यवेक्षक ने इसपर जोर दिया कि अवैध जब्ती के विरुद्ध आइपीसी से संबंधित धाराओं के तहत संबंधित व्यक्ति के विरुद्ध एफआइआर भी किया जाएगा।

उन्होंने इसकी नियमित रिपोर्ट मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय तथा भारत निर्वाचन आयोग को भी भेजने का निर्देश दिया। मौके पर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी विनय कुमार चौबे तथा अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कृपा नंद झा व अन्य पदाधिकारी भी उपस्थित थे।

Posted By: Sujeet Kumar Suman

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप