रांची, (राज्य ब्यूरो)। Covid19 Vaccine Booster Dose In Jharkhand : झारखंड (Jharkhand) में सोमवार से बूस्टर डोज (Booster Dose) अर्थात सतर्कता डोज (Caution Dose) का टीकाकरण (Vaccination) शुरू हो गया। झारखंड के सभी जिलों में हेल्थ केयर वर्कर्स (Health Care Workers), फ्रंटलाइन वर्कर्स (Frontline Workers) तथा 60 वर्ष या इससे अधिक आयु के बीमार बुजुर्गों से इसकी शुरुआत हुई।

संख्या और भी बढ़ने की उम्मीद

बूस्टर डोज लगने वाले सभी केंद्रों पर बीमार बुजुर्गों को प्राथमिकता दी गई। शाम तक कोविन पोर्टल (Covin Portal)  पर लगभग छह हजार लोगों को बूस्टर डोज लगने का आंकड़ा प्रदर्शित हो रहा था। यह संख्या और भी बढ़ने की उम्मीद है। हालांकि स्वास्थ्य विभाग को शाम तक मिली रिपोर्ट के अनुसार, कुल 5,374 नागरिकों को बूस्टर डोज लगी थी।

बूस्टर डोज लगने में

  • 2,554 हेल्थ केयर वर्कर्स,
  • 1,350 फ्रंटलाइन वर्कर्स तथा
  • 1,470 बुजुर्ग शामिल हैं।

दस से बीस प्रतिशत वैक्सीन सुरक्षित

बूस्टर डोज की वैक्सीन उन्हीं केंद्रों पर लगनी शुरू हुई, जहां पहले से 18 से अधिक आयु के वयस्कों का टीकाकरण हो रहा है। हालांकि सभी केंद्रों पर बूस्टर डोज के लिए दस से बीस प्रतिशत वैक्सीन सुरक्षित रखी गई थी।

निगेटिव होने के तीन माह बाद ही लगाई जा सकती है वैक्सीन

बता दें कि राज्य में लगभग 12 लाख लोगों को निर्धारित समय पर बूस्टर डोज लगनी है। जिनका बूस्टर डोज लेने का समय आ गया है, उनके मोबाइल पर मैसेज भेजे जा रहे हैं। जिन लोगों को दूसरी डोज की वैक्सीन लिए नौ माह अर्थात 34 सप्ताह हो चुका हैं, वे भी बूस्टर डोज ले सकेंगे। साथ ही जो कोरोना संक्रमित हुए हैं उन्हें निगेटिव होने के तीन माह बाद ही यह वैक्सीन लगाई जा सकती है।

Edited By: Sanjay Kumar