रांची, राज्य ब्यूरो। राज्य सूचना आयोग में अब अपीलों की सुनवाई वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से होगी। जिला मुख्यालयों से अपील वादों की सुनवाई के लिए आयोग ने वीडियो काफ्रेंसिंग सिस्टम विकसित किया है। इसके अलावा सूचना अधिकार को सहज उपलब्ध कराने के लिए मोबाइल एप भी तैयार किया गया है। इससे आरटीआइ दाखिल कर सूचना मांगने वाले आवेदकों को खासी सहूलियत होगी। आवेदकों को एप के माध्यम से सुनवाई की सूचना भी मिलती रहेगी।

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने शुक्त्रवार को ऑनलाइन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सिस्टम तथा ऐप का शुभारंभ किया।आवेदकों और जन सूचना पदाधिकारियों को सुदूर जिलों से सुनवाई में राची आना पड़ता था, जिससे काफी समय की बर्बादी होती थी। इस व्यवस्था से अब उन्हें परेशानियों से निजात मिलेगी। अब आवेदक और जन सूचना पदाधिकारी अपने जिले में ही झारनेट के माध्यम से सुनवाई में भाग ले सकेंगे।

मोबाइल ऐप का उपयोग सुनवाई के दौरान आवश्यक दस्तावेज की प्रति उपलब्ध कराने में होगा। मौके पर मुख्य सूचना आयुक्त आदित्य स्वरूप, सूचना आयुक्त हिमाशु चौधरी आदि उपस्थित थे।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान देवघर के उपायुक्त राहुल सिन्हा ने इस तरह की व्यवस्था लोकायुक्त न्यायालय तथा अन्य विभागों में भी लागू करने का सुझाव दिया।

ऑनलाइन वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से सुनवाई की व्यवस्था अभी संताल परगना के जिलों में शुरू की जा रही है। बाद में इसे सभी जिलों में लागू किया जाएगा। इस मौके पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि अब पहले के मुकाबले सूचनाओं का आदान-प्रदान तेज गति से होगा। लोक शिकायत निवारण के लिए आए शिकायती सूचनाओं के निष्पादन को भी गति मिलेगी।

Posted By: Jagran