रांची, जेएनएन। Ram Navami 2021, Ramnavami 2021 मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) की अगुआई वाली झारखंड सरकार (Jharkhand Government) ने तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण पर नियंत्रण पाने को लेकर नई गाइडलाइन (Coronavirus New Guidelines) जारी की है। इस साल रामनवमी जुलूस पर राेक (Ram Navami 2021 procession Banned in Jharkhand) लगाई है।

बीजेपी सांसद निशिकांत दूबे (Nishikant Dubey) ने इस मामले को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में ले जाने की बात कही है।  झारखंड सरकार ने तेजी से बढ़ रहे कोरोना वायरस संक्रमण पर नियंत्रण पाने को लेकर नई गाइडलाइन जारी की है। इस साल रामनवमी जुलूस पर राेक लगाई है। बीजेपी सांसद निशिकांत दूबे ने इस मामले को सुप्रीम कोर्ट में ले जाने की बात कही है।

गोड्डा के सांसद निशिकांत दूबे ने झारखंड सरकार के इस फैसले से असहमति जताते हुए कहा है कि सारे विरोध के बाबजूद जब बाबाधाम देवघर का मंदिर मैंने सुप्रीम कोर्ट से आदेश लेकर खुलवा दिया, तो रामनवमी का पूरे झारखंड में जुलूस निकालने के लिए भी मैं सुप्रीम कोर्ट तक जाऊंगा। उन्‍होंने कहा कि इसी बात पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन जी जी से लड़ाई कर मैं और मेरा परिवार 22 केस लड़ रहा है और बाबा की कृपा से जीत हासिल भी कर रहा है। हिम्मते मरदा मददे खुदा। 

निशिकांत दूबे ने आगे सवालिया लहजे में कहा कि यदि मधुपुर विधानसभा उपचुनाव 2021 में चुनावी रैली हो सकती है, तो रामनवमी का जुलूस क्यों नहीं निकल सकता है। पूजा समिति यदि रामनवमी का जुलूस निकालने के लिए इच्छुक होगी तो हमलोग इसका तन-मन-धन से समर्थन करेंगे।

Edited By: Alok Shahi