जासं, रांची : कलाकृति स्कूल ऑफ आ‌र्ट्स एवं कलाकृति आर्ट फाउंडेशन के द्वारा मास्क-ए-थॅान, मास्क मेकिंग प्रतियोगिता आयोजित की गई। इस प्रतियोगिता में बच्चों को घर पर मास्क बना उसपर किसी भी थीम की पेंटिंग कर उसे ऑनलाइन भेजना था। इस अवसर पर कलाकृति के दो सौ बच्चों ने बेहद कलात्मक मास्क बनाए। प्रतियोगिता के दौरान जहां बच्चों ने झारखण्ड के सोहराई पेंटिंग को अपने मास्क में उतारा तो कईयों ने अपने सुपर हीरो के मास्क बनाए। कुछ ने कोरोना से कलात्मक फ्लोरल पेंटिंग्स तो कुछ ने देश को एकजुट हो कोरोना से लड़ने का संदेश दिया। कई बच्चों ने अपने मास्क के माध्यम से प्रकृति संरक्षण का संदेश दिया तो कई ने अपने मास्क को डिजाइनर रूप दिया।

कलाकृति आर्ट फाउंडेशन के फाउंडर चित्रकार धनंजय कुमार ने कहा कि बच्चों में सृजनात्मकता के साथ कोरोना महामारी से बचने के लिए मास्क के प्रयोग के लिए प्रेरित करने के उद्देश्य से छात्रों के लिए चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन किया गया है। इस प्रतियोगिता में भाग लेने वाले प्रतिभागियों के नाम से संस्था के द्वारा दो-दो मास्क उपहार स्वरुप प्रदान किया जाएगा।

--

पौधा लगाकर दिया पर्यावरण बचाने का संदेश

जासं, राची : राची विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई द्वारा विश्व पर्यावरण सप्ताह के मौके पर पौधे लगाकर पर्यावरण बचाने का संदेश दिया गया। एनएसएस के स्वयंसेवक सोशल मीडिया के माध्यम से पर्यावरण के प्रति लोगो को जागरूक कर रहे हैं। इसके लिए पोस्टर, निबंध लेखन,कविता को माध्यम बना रहे हैं। टीम लीडर दीपक गुप्ता के नेतृत्व में सदस्यों ने ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर लोगों को पर्यावरण का महत्व बताया। एनएसएस समन्वयक डॉ. ब्रजेश कुमार ने कहा कि पेड़-पौाधों की अंधाधुंध कटाई हो रही है। जिससे हमारा पर्यावरण खतरे में है। अगर ऐसा ही रहा तो मानव का जीवन समाप्त होने में देर नहीं लगेगी। मौके पर एनएसएस स्वयंसेवक शुभम चौधरी, सुरेश भगत, बीरेंद्र प्रमाणिक, सुनील सहित अन्य थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस