जागरण संवाददाता, रांची : पेट्रोल-डीजल की कीमत में वृद्धि का असर बसों और ऑटो के किराए पर भी पड़ा है। बसों के किराए में बढ़ोतरी जहां कल से लागू होगी वहीं कई रूट में ऑटो चालक कई दिन पहले से ही बढ़ा किराया वसूल रहे हैं। यात्री बसों के किराए में अधिकतम 30 रुपये तक की बढ़ोतरी की गई है।

सोमवार को रांची बस ओनर्स एसोसिएशन की बैठक में भाड़ा बढ़ोतरी का निर्णय लेने के बाद एसोसिएशन के अध्यक्ष कृष्ण मोहन सिंह ने बताया कि गुरुवार से बसों के भाड़ा में की गई वृद्धि लागू होगी। यह भी निर्णय लिया गया है कि एसोसिएशन का शिष्टमंडल मुख्यमंत्री से मिलकर अपनी समस्याओं से अवगत कराते हुए अन्य राज्यों की तर्ज पर झारखंड में भी डीजल पर लिए जाने वाले कर में कटौती कर आम जनता व बस मालिकों को राहत देने का अनुरोध करेगा।

उन्होंने बताया कि 0-50 किमी. की दूरी वाले मार्ग पर 10 रुपये, 50-100 किमी. की दूरी वाले मार्ग पर 20 रुपये व 150 किमी. से अधिक दूरी वाले मार्ग पर परिचालन होने वाले बसों के भाड़ा में 30 रुपये की वृद्धि की गई है। बसों के भाड़ा में की गई वृद्धि से आम लोगों की न सिर्फ जेब कटेगी, बल्कि कई आवश्यक वस्तुओं की कीमतें भी बढ़ेंगी। ---------------

भाड़े में यह मामूली बढ़ोतरी है। डीजल का खर्च नहीं निकल पाने के कारण ऐसा करना पड़ा। एक माह के भीतर डीजल की कीमतों में 10 रुपये की वृद्धि हुई है। इससे बसों के परिचालन में दिक्कत हो रही है। आम जनता को भी ज्यादा परेशानी न हो इसलिए भाड़ा दूरी के हिसाब से बढ़ाया है।

कृष्ण मोहन सिंह, बस ओनर एसोसिएशन के अध्यक्ष।

---------

जेल मोड़ से बूटी मोड़ तक पेट्रोल ऑटो के किराए में दो रुपये की वृद्धि राजधानी पेट्रोल ऑटो चालक संघ ने जेल मोड़ से लालपुर, लालपुर से कोकर चौक व कोकर चौक से बूटी मोड़ तक के भाड़ा में दो रुपये की वृद्धि कर दी है। इस मार्ग पर आवागमन करने वाले यात्री ऑटो के भाड़ा में वृद्धि किए जाने से परेशान हैं। प्रतिदिन ऑटो की सवारी करने वाले छात्र-छात्राएं भी काफी परेशान हैं। संघ के अध्यक्ष छोटू पासवान ने बताया कि तीन साल बाद चार सितंबर से इस मार्ग पर पेट्रोल ऑटो के भाड़ा में वृद्धि की गई है। दूसरी ओर झारखंड प्रदेश डीजल ऑटो चालक महासंघ के अध्यक्ष दिनेश सोनी ने बताया कि फिलहाल शहर के विभिन्न मार्गो पर परिचालित डीजल ऑटो के भाड़ा में कोई वृद्धि नहीं की गई है। अर्जुन यादव गुट के महासचिव नागेंद्र पांडे ने भी कहा कि महासंघ की ओर से डीजल ऑटो के भाड़ा में फिलहाल कोई वृद्धि नहीं की गई है।

Posted By: Jagran