रांची, जेएनएन। झारखंड में विपक्षी दल आज नोटबंदी की बरसी को काला दिवस के तौर पर मना रहे हैं।रामगढ़ के सुभाष चौक के समीप नोटबंदी के विरोध में राजद, झाविमो, सीपीआई और झामुमो ने काला दिवस मनाते हुए धरने पर बैठे हैं।

वहीं, सिमडेगा समाहरणालय में नोटबंदी के विरोध में झामुमो के कार्यकर्ताओं ने मुंह पर काली पट्टी बांधकर विरोध जताया।

रांची में नोटबंदी के एक वर्ष पूरे होने पर आयोजित काला दिवस को पूर्व सांसद सुबोधकांत सहाय ने संबोधित किया।

सिमडेगा समाहरणालय में नोटबंदी के विरोध में मुंह पर काली पट्टी बांधकर विरोध जताते झामुमो के कार्यकर्ता।

झामुमो की केंद्रीय समिति ने तमाम जिला कमेटियों को विरोध प्रदर्शन करने का निर्देश दिया था। पार्टी महासचिव विनोद कुमार पांडेय ने बताया कि यह भाजपा के खिलाफ आंदोलन का आगाज है।

नोटबंदी के एक वर्ष पूरे होने पर रांची में काला दिवस को संबोधित करते सुबोधकांत सहाय।

उधर, कांग्रेस के तमाम दिग्गज भी इस आंदोलन के दौरान मौजूद रहेंगे। राजधानी रांची समेत तमाम जिला मुख्यालयों पर वरीय नेताओं की मौजूदगी में कार्यक्रम होगा। प्रदेश कांग्रेस प्रभारी आरपीएन सिंह स्वयं इन कार्यक्रमों में शिरकत करेंगे। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत ने बताया कि दिन में पार्टी के कार्यकर्ता राजभवन के समक्ष प्रदर्शन करेंगे। शाम में पार्टी कैंडल मार्च निकालेगी। उन्होंने नोटबंदी को आर्थिक भ्रष्टाचार बताया।

उधर, राजद ने जीएसटी और नोटबंदी को जनविरोधी करार देते हुए बुधवार को पूरे प्रदेश में काला दिवस मनाने का फैसला लिया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के निर्देश पर प्रदेश अध्यक्ष अन्नपूर्णा देवी ने राजद के सभी पूर्व विधायकों तथा पदाधिकारियों को अपने-अपने जिले में प्रस्तावित कार्यक्रमों का नेतृत्व करने को कहा है।

प्रदेश प्रवक्ता डा. मनोज कुमार के अनुसार इस दिन राजद कार्यकर्ता जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन करेंगे तथा इस मौके पर आयोजित सभाओं के माध्यम से नोटबंदी और जीएसटी के कारण लोगों को हो रही परेशानियों से अवगत कराएंगे। इधर, झाविमो के केंद्रीय मीडिया प्रभारी तौहिद आलम के अनुसार राजद के इस कार्यक्रम को झाविमो का समर्थन है। 

गौरतलब है कि आज नोटबंदी का एक साल पूरा हो गया। 8 नवंबर, 2016 को रात 8 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आधी रात से देश में 500 और 1000 के नोटों के विमुद्रीकरण की घोषणा की थी। 

झारखंड की अन्य खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें
 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021